Header Ads

एटा में देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र ने राजस्थान के राज्यपाल और पूर्व मुख्यमंत्री के बेटे के समर्थन में चुनावी को किया संबोधित,

एटा में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की चुनावी रैली की सबसे अहम बात ये रही कि उन्होंने अपने पूरे भाषण में बड़ी ही चतुराई के साथ अपने किसी भी उन वायदों का जिक्र तक नही किया जिनको उन्होंने और बीजेपी ने किया था और वो पूरा नही कर सके। उन्होंने अपने पूरे भाषण में कहीं भी राम मंदिर,धारा 370, 35 ए, गरीबी दूर करने,किसानों की आय दोगिनी करने,विदेशो से काला धन लाने,15 लाख रुपये प्रति व्यक्ति के खाते में आने,प्रति वर्ष 2 करोड़ रोजगार का स्रजन करने,महंगाई,भ्रस्टाचार कम करने का जिक्र तक नही किया।और तो और उस जुमले "अच्छे दिन"तक का जिक्र नही किया जिसको लेकर 5 साल पहले उन्होंने सरकार बनाई थी। चाय वाले से लेकर चौकीदार तक के सफर में शायद मोदीजी से बहुत कुछ छूट गया जिसका उन्होंने अपने भाषण में कहीं भी जिक्र नही किया। एक लाइन में कहा जाए तो ज्वलंत मुद्दों और मूल भूत समस्याओं से देश का ध्यान हटाकर राष्ट्रवाद के मुद्दे में भटकाकर वोट लेने की कोशिश की जा रही हैं ।
प्रधान मंत्री का भाषण अगर आपने ध्यान से सुना हो तो लगभग उन्होंने अपने भाषण का 60 से 70 फीसदी हिस्सा सपा बसपा गठबंधन,माया मुलायम,बुआ बबुआ,महामिलावट गठबंधन आदि पर ही बोला।मोदी ने महा गठ बंधन को इतना महत्व कभी नही दिया जितना आज की एटा रैली में दिया। इसका कारण शायद महागठबंधन की मैनपुरी और फिरोजाबाद में हुई बड़ी और सफल रैलियां ही थी जिन्होंने मोदीजी को इतना विचलित कर दिया।इसीलिए शायद मोदी जी ने महा गठबंधन को काउंटर करने के लिए आज सबसे ज्यादा महागठबंधन को ही निशाने पर लिया। महा गठबंधन के आगे आज वे राहुल गांधी, सोनिया गांधी और कांग्रेस पर हमला करना ही भूल गए। इसका मतलब साफ है कि मोदीजी को महागठबंधन की बढ़ती हुई ताकत का बखूबी अहसास हैं परंतु वे आम जनता को इस अहसास से दूर ही रखना चाहते हैं ।मोदी जी ने इसीलिए बार बार जोर देकर कहा कि पहले और दूसरे चरण के चुनावों में बीजेपी को महागठबंधन के मुकाबले जबरदस्त वोट मिला हैं ।
मोदीजी ने बुआ बबुआ का गठबंधन टूटने की तारीख की भी भविष्यवाड़ी अपने भाषण में कर दी और उसकी तारीख भी नियत कर दी। उन्होंने कहा कि इस  गठबंधन को टूटने की तारीख 23 मई दिन गुरुवार होगा।
प्रधान मंत्री शायद भीड़ को देखकर संतुष्ट नही दिखे तभी बार बार वे लाखों की भीड़ होने के दावे मंच से करते रहे ताकि भीड़ की संख्या को लेकर किसी के मन मे निराशा का भाव न जाने पाए। कमोवेश भीड़ को लेकर इसी तरह के दावे एटा के सांसद और प्रत्याशी राजवीर सिंह और कैविनेट मंत्री एस पी सिंह बघेल को भी अपने भाषणों में करने पड़े।
यही संकेत कहीं न कहीं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी दिया। उन्होंने कहा कि देश की आंतरिक और बाह्य सुरक्षा व्यवस्था में भारत के प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने बड़ा काम किया हैं । कांग्रेस,सपा,बसपा सबके लिए जो कार्य नामुमकिन था वो आज मुमकिन है क्योंकि मोदी हैं तो मुमकिन है। मोदी जी ने भारत को दुनिया की शक्ति बनाने का कार्य किया हैं ।प्रदेश में सपा बसपा की सरकार में बिजली नही आती थी,आज बिजली भरपूर मिल रही होगी। प्रदेश में अपराधी या तो जेल में हैं या राम नाम सत्य है के रास्ते पर निकल लिये हैं।उन्होंने कहा कि कमल के निशान पर पड़ने वाला एक एक वोट मोदी जी को प्रधान मंत्री बानाने वाला वोट होगा। मोदी जी को ध्यान में रखकर वोट करे।
एटा रैली में प्रधान मंत्री मोदी ने कहा कि यू पी के सभी मतदाताओं का आभार जिन्होंने पहले दो चरणों मे बड़ी संख्या में वोट डाला। इन दो चरणों के मतदान के बाद जो लोग मोदी को गाली देते थे उनकी आवाज अब दब गई हैं।
मुझे विश्वास है कि 23 अप्रैल को आप सभी पहले मतदान करेगे फिर जलपान करेगे। विशेष तौर पर जो पहली बार वोट दे रहे हैं वो 5 साल सरकार के लिए नही 21 वी सदी कैसी हो हिंदुस्तान की उसका फैसला करने वाले हैं।
मोदीजी ने देश भक्ति और राष्ट्रवाद की चाशनी में भिगोकर जनता को भरमाने वाले कुछ सवाल भी जनता से पूंछे ।उन्होंने पूंछा कि क्या आज दुनिया मे भारत का दम दिख रहा है कि नही? क्या आज भारत का सम्मान दुनिया कर रही है?क्या पिछले पांच साल में यूपी में कोई बम धमाका हुआ है?पाकिस्तान में घुसकर आतंकियों को मारा आपको गर्व हुआ,आपका माथा ऊंचा हुआ,आपका सीना चौड़ा हुआ,क्या देश कोआतंकवाद से मुक्ति मिलनी चाहिए?आतंकवादियों को चुन चुन कर साफ करना चाहिए,ये काम कौन करेगा, ये सपा,बसपा बाले कांग्रेस और महा मिलावट वाले कर सकते है क्या? ये काम आपका एक एक वोट करेगा। हम सभी चौकीदार ये करके रहेगे। देश को भ्रस्टाचारियों से बचाना है, यही राष्ट्र भक्ति है। स्वार्थ की जो महमिलावट सपा बसपा ने की है उनकी क्या हालत है? पहले दो चरणों के मतदान में उनके सारे खेल खत्म हो चुके हैं। उनको लगता था कि देश के वोटो के वे ही ठेकेदार हैं। उत्तर प्रदेश को जात पात में तोड़कर अपनी राजनीति चमकाने वाले ये भूल गए जब बात देश की आती है तो सब खत्म हो जाता हैं ।
मुझे उत्तर प्रदेश ने सांसद बनाया ।देश का गौरब बढ़ाने वाली एक मजबूत सरकार के पक्ष में उत्तर प्रदेश की जनता खड़ी हैं। खोखली दोस्ती करने वालो का हश्र सब जानते हैं। एक दोस्ती यू पी चुनाव के समय भी हुई थी जो खत्म हो गई अब एक दोस्ती और हुई है इस फर्जी दोस्ती की टूटने की तारीख 23 मई दिन गुरुवार हैं और इस दिन ये बुआ और बबुआ अपनी दुश्मनी का पार्ट 2 शुरू कर देंगे ।एक दूसरे को गेस्ट हाउस कांड याद दिलाने लगेंगे। ये दलितों, शोषितों वंचितों के बारे में कभी नही सोच सकते। गरीब के नाम पर राजनीति करके इन लोगो ने सिर्फ और सिर्फ अपना बैंक बैलेंस बढ़ाया हैं।
साथियों सब के सब महा मिलावटी हैं।यू पी में योगी की के आने से पहले समाजवादी सरकार ने गरीबो के घर बनाने की चिंता नही की वे तो सारा ध्यान अपने बंगलों को देते रहे। अपने बंगलो में विदेशी टाइलों को लगवाने में महंगी टोटियां लगवाने में लगे थे।
हम गरीबो को घर बनाने की लिस्ट मांगते रहे और वे टालते रहे। योगी जी की सरकार में घर बनाने की गति तेज हुई है। प्रधानमंत्री योजना के तहत 5 साल में डेढ़ करोड़ घर बनाये गए हैं ।
2022 में जब भारत की आजादी के 75 साल होंगे तब तक हर गरीब के पास घर हो, हम इसपर काम कर रहे रहे हैं सपा बसपा के झंडे अलग है पर सोच एक ही हैं ।बुआ के समय हुआ भ्रस्टाचार ओर बबुआ के समय दलितों पर अत्याचार होता था।
बहन जी भले भूल गई हो लेकिन आपको याद होगा कि समाजवादी गुंडो ने दलितों की जमीन कब्जाने का काम किया था। बाकई मायावती जी बहुत ही कठिन फैसला रहा आपका जो ऐसे लोगो को समर्थन दे रही हैं। कोई भी किसी की जमीन पर जबरन कब्जा न कर सके हम ऐसी व्यवस्था बना रहे हैं ।मैं फिर कहूँगा वाकई बहनजी आपका फैसला बहुत कठिन है। फिर आपको याद दिलाऊंगा कि दोस्ती टूटने की तारीख 23 मई गुरुवार होगी। इधर मोदी सरकार बनी उधर दोस्ती टूटी।
भाजपा और एनडीए के हमारे साथी उत्तर प्रदेश के विकास के लिए पूरी ईमानदारी से काम कर रहे हैं । 23 मई को जब चुनाव परिणाम आएंगे तब यूपी के सभी किसानों को हम ये लाभ देने वाले हैं। किसानों को 60 वर्ष के बाद नियमित पेंसन की व्यवस्था हम करनेवाले हैं ।आयुष्मान योजना का लाभ भी यहाँ लोगो को हो रहा हैं ।ये सुरक्षा इस चौकीदार की सरकार ने गरीबों को दे दी है । सौभाग्य योजना में अबतक 2.5 करोड़ लोगों को मुफ्त बिजली कनेक्शन देने का लाभ मिल चुका हैं ।देश की सुरक्षा हो या स्वाभिमान आपके वोट पर निर्भर है।आपका वोट मोदी के खाते में जायेगा।
और हां आज की रैली का सबसे महत्वपूर्ण मुद्दा यह भी रहा कि मुख्यमंत्री और प्रधान मंत्री सहित किसी भी वक्ता ने एटा सांसद राजवीर सिंह की कार्यप्रणाली और उनके द्वारा किया गए कार्यों पर वोट नही मांगा। एक तरफ जहां प्रधान मंत्री ने देश की सुरक्षा और स्वाभिमान पर वोट मांगा और कहा कि आपका वोट मोदी के खाते में जायेगा वहीं प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी  कहा कि कमल के निशान पर पड़ने वाला एक एक वोट मोदीजी को प्रधानमंत्री बनाने वाला वोट होगाउन्होंने मोदीजी को ध्यान में रखकर वोट करने की अपील की।
कुल मिलाकर एयर स्ट्राइक, राष्ट्रवाद,देश प्रेम और पाकिस्तान के प्रति गुस्से को और सपा बसपा के महा गठबंधन को ढाल बनाकर मोदीजी ने अनेकों ज्वलंत मुद्दों और समस्याओं को ढक दिया जो कि देश के वास्तविक विकास में बहुत बड़ी बाधा हो सकते हैं।

No comments

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.