Header Ads

एटा में 10 मिनट लेट होने की सजा पति ने पत्नी को फोन पर दिया तीन तलाक,बोला तलाक तलाक तलाक़


एटा में पति ने पत्नी को फोन पर दिया तलाक,फोन पर बोला तलाक़-तलाक-तलाक,मात्र 10 मिनट लेट होने की सजा-फोन पर तलाक,पीड़िता ने थाने में दी तहरीर,दहेज का भी मामला आया सामने,ससुरालियों के दंश से पीड़िता खो चुकी गर्भ में ही 6 माह का बच्चा,एटा जनपद के नयागांव थाना क्षेत्र का है पूरा मामला।
वी ओ-1- भारत सरकार तीन तलाक को लेकर चाहे जितना भी गंभीर हो ले, चाहे जितने भी कड़े कानून बना ले, फिर भी तीन तलाक का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा है,ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश के जनपद एटा में देखने को मिला है,जहां मात्र 10 मिनट लेट होना एक मुस्लिम महिला को भारी पड़ गया,उसके पति ने महिला को लेट होने की सजा फोन पर तीन तलाक के रूप में दी,फोन पर ही बोला तलाक-तलाक-तलाक,यह सुनकर महिला दंग रह गई और फोन छोड़ कर वहीं बैठ गई,जब महिला ने अपने मायके पक्ष को बताया तो मायके पक्ष में भी सन्नाटा छा गया, अगले दिन जब महिला अपने ससुराल पहुंची तो ससुराल पक्ष ने घर में नहीं घुसने दिया और मारपीट कर बाहर निकाल दिया।
वी ओ-2 आपको बता दें पूरा मामला उत्तर प्रदेश के जनपद एटा के नया गांव थाना क्षेत्र के अंतर्गत अलीपुर गांव का है जहां एक मुस्लिम महिला ने अपने पति पर आरोप लगाते हुए बताया की 18 जनवरी को मैं अपनी बीमार दादी को देखने के लिए अपने पति से 30 मिनट की कहकर गांव में ही अपने मायके आई थी वहां उन्हें देखने में तीस की जगह 40 मिनट हो जाने पर मेरे पति ने अपने छोटे भाई को फोन लेकर मुझसे बात कराने के लिए कहा और जैसे ही मैंने फोन पर बात की तो मेरे पति ने सीधे तलाक तलाक तलाक बोल दिया,मेरे पैरों तले जमीन खिसक गयी, वहीं महिला ने अपने ससुराली जनों पर भी आरोप लगाते हुए कहा की इसके अलावा भी मेरे ससुरालीजन दहेज की मांग करते रहते हैं मेरे मायके वाले बेहद गरीब होने के कारण उन्हें कुछ नहीं दे पा रहे हैं दहेज ना देने पाने के कारण पहले भी मुझे कई बार घर से मारपीट कर भगाया गया है इन सब लोगों की मारपीट से कुछ दिन पहले मेरे गर्भ में पल रहे 6 माह के बच्चे की भी इलाज के दौरान मौत हो चुकी है जिसमें मैं भी बाल बाल बच चुकी हूं, आखिर मुझे 10 मिनट लेट होने की सजा तलाक के रूप में मिली अब मेरी सरकार से यही गुहार है कि मुझे न्याय मिलना चाहिए नहीं तो आत्महत्या कर अपनी जान दे दूंगी। वहीं पुलिस का कहना है कि तहरीर के आधार पर जाँच कर पूरी कार्यवाही की जाएगी।
बाईट-शुम्बुल बेगम (पीड़ित मुस्लिम महिला)
नंदकुमार/एटा/फोनो मोबाइल-8445010851

No comments

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.