Header Ads

यूपी मे 15 दिसंबर तक गंगा में गिरने वाले नाले होंगे बंद-सीएम

कानपुर-मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कुंभ से पहले हर हाल में गंगा स्वच्छ हो जानी चाहिए। उन्होंने वादा किया कि बिजनौर से बलिया तक गंगा में गिरने वाले सभी नाले हर हाल में 15 दिसंबर तक बंद हो जाएंगे। हमने अफसरों के साथ मिल कर वृहद योजना तैयार की है। अफसर इसपर दिन-रात काम कर रहे हैं। यह काम मुश्किल है, लेकिन हमने गंगा स्वच्छता को चुनौती के रूप में स्वीकार किया है। मुख्यमंत्री नमामि गंगे कार्यक्रम के अंतर्गत चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय में कानपुर एवं बिठूर के 20 घाटों के लोकार्पण समारोह में बोल रहे थे।
सीएम अौर गडकरी ने किया सीसामऊ नाले का निरीक्षणः
इससे पहले मुख्यमंत्री और जल संसाधन मंत्री नितिन गडकरी ने सांसद डॉ मुरली मनोहर जोशी नमामि गंगे के महानिदेशक राजीव मिश्र के साथ नमामि गंगे परियोजना के तहत एशिया के सबसे बड़े सीसामऊ नाले के डायवर्जन और टैपिंग के काम का निरीक्षण करने पहुंच गए। अफसरों ने सीएम अौर गडकरी को बताया कि अभी तक नाले का 70 प्रतिशत काम हो चुका है। अक्तूबर तक पूरी तरह यह नाला टैप हो जाएगा, इसके बाद गंगा का काफी हद तक प्रदूषण कम हो जाएगा।
गडकरी से सीएम की अपील, गंगा की मूलधारा लौटाएं-
मुख्यमंत्री ने कहा कि 15 जनवरी को कुंभ का पहला स्नान है। इसलिए गंगा को साफ करने के लिए 15 दिसंबर की डेडलाइन तय की है। उन्होंने कहा कि इस बीच बिजनौर और बलिया तक जितने भी नाले गंगा में गिरते हैं वह हर हाल में बंद कर दिए जाएं। इसके लिए जो भी तकनीक इस्तेमाल करनी हो वह की जाए। मुख्यमंत्री ने जल संसाधन मंत्री से कहा कि वह गंगा को अविरल बनाने का भी प्रयास करें। भीमगौरा या रुढ़की में गंगा दी दिशा बदली है, ऐसा न होने पाए। मूलधारा को बनाए रखना भी अहम है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंंत्री ने हमें नमामि गंगा योजना दी है। इसका जितना भी लाभ उठा सकें, हमें उठाना चाहिए।
40 मिनट में होगा कानपुर-लखनऊ का सफर: गडकरी
केंद्रीय जल संसाधन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि कानपुर-लखनऊ एक्सप्रेस-वे का काम इसी साल शुरू होगा। इस एक्सप्रेस-वे से 40 मिनट में कानपुर से लखनऊ का सफर पूरा होगा। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार एक्सप्रेस-वे  के लिए पांच हजार करोड़ देगी। उन्होने एेलान किया कि गंगा की अविरलता बनाए रखने लिए सरकार काफी गंभीर है। गंगा स्वच्छता अभियान के लिए धन की कोई कमी नहीं है। बोले, मुख्यमंत्री जी डीपीआर लाइए पैसा ले जाइए। टोल प्लाजा के लिए नीति बना रहे हैं, इसकी घोषणा शीघ्र ही की जाएगी।
गंगा की सफाई का ठोस प्लान दें: जोशी
पूर्व केंद्रीय मंत्री और सांसद डॉ. मुरली मनोहर जोशी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और नितिन गडकरी से कहा कि वे गंगा की स्वच्छता के लिए कोई ठोस प्लान घोषित करें। डॉ. जोशी ने कहा कि कानपुर से ढाका तक गंगा में आर्सेनिक बहुत है। इसका अध्ययन आईआईटी कानपुर कर चुका है। उन्नाव आर्गेनिक का उद्गम स्थल है। इस पर भी काम करने की जरूरत है। मदन मोहन मालवीय जी ने वाराणसी से आंदोलन किया तो अंग्रेजी सरकार से एक समझौता हुआ था। सरकार इसका अध्ययन करे। बिहार और बंगाल में स्थिति गंभीर है। इस दौरान मानव संसाधन विकास राज्यमंत्री डॉ. सतपाल सिंह ने गंगा टास्क फोर्स गठित करने की घोषणा की।
रिपोर्ट अनन्त मिश्रा




No comments

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.