Header Ads

एटा में मुर्दो को बैक डेट में नोटिस देने के बाबजूद भी नही की कार्यवाही

एटा में मतदाता सूची में जीवतों लोगों को भी मृतक दर्शाकर वोटर लिस्ट में फर्जीवाड़ा कर 20 हजार से ज्यादा लोगों के नाम काटने के मामले में जिला प्रशासन अपने मताहतों को बचाने में जुट गया है। रविवार को भले ही छुट्टी हो लेकिन अलीगंज तहसील गुपचुप तरीके से खुली औरछुट्टी के दिन भी आर आई, अमीन और लेखपाल अपने को फंसता देख हजारों की संख्या में बैक डेट में नोटिस तामिल कराने की कार्यवाही करते नजर आये ताकि ये सिद्ध हो जाये कि जिन लोगों को या तो मृत दशर्या गया है या जिनके नाम कटे है उन्हें नोटिस दी गयी थी और उन्होंने नोटिस का जवाब नहीं दिया था इसके लिए तहसील कर्मा बैक डेट में नोटिस तामील की कार्यवाई कर अपने को बचाने की जुगत में लगे रहे। लेकिन तहसील में चल रहे फर्जीवाड़े का यह सच कैमरे में कैद हो गया और तहसील में मौजूद कर्मचारी कैमरे से बचते हुए खिसकने लगे लेकिन तब तक बैक डेट में नोटिस तामील कराने की फर्जीवाड़ा कैमरे में कैद हो चुका था। प्रशासन अब अपने मातहतों को बचाने में जुटा है। गौरतलब है कि 103 अलीगंज विधानसभा में मतदाता सूची में 20 हजार से ज्यादा लोगों को मृत दर्शाया गया गया या उनके नाम काट दिये गये है जिसे लेकर स्थानीय मतदाताओं में भारी रोष देखा जा रहा है। गौरतलब है कि शनिवार को अलीगंज से बीजेपी विधायक सत्यपाल सिंह राठौर ने वोटर लिस्ट में जीवितों मुर्दों को लेकर जिलाधिकारी आवास का घेराव किया था और उनकी परेड कराई थी जिन्हे या तो मृतक दर्शाया गया था या फिर उनके नाम काट दिये गये थे। विधायक ने दोषियों के खिलाफ चेतावनी देते हुए नोटिस दी है कि यदि पूरे मामले में दोषियों के खिलाफ एफ आई आर और निलंबन नहीं किया जाता तो वो सोमवार से धरने पर बैठे जायेंगें। पूरे मामले को गंभीर प्रकरण मानते हुए जिलाधिकारी अमित किशोर ने एडीएम (एफ/आर) को जॉंच सौपी थी और जॉंच के बाद दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की बात कही थी वहीं इस पूरे मामले में अब प्रशासन अपनी खामियों को छिपाकर अपने मातहतों को बचाने में जुटा है भले ही इसके लिए रविवार का दिन ही ज्यादा सटीक लगा ताकि सन्नाटे में बैक डेट में नोटिस खुद ही तामील दर्शाकर वो खुद को बचा सके।

रिपोर्ट अनंत मिश्रा

No comments

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.