Header Ads

एटा पुलिस वक़्त रहते कार्यवाही करती तो नही चढ़ती मासूम बच्चे की बलि,5 दिन तक थाने में बैठाकर की हत्यारे की दामाद की तरह ख़ातिरदारी

एटा-कोतवाली नगर के शिवओम पूरी से गायब छह वर्षीय मासूम राजा की बलि से पहले तांत्रिक ने उसके सीने पर तांडव नृत्य किया था। जिसके चलते मासूम ने तडप-तडपकर कर दम तोड़ दिया था,पुलिस ने हत्यारे तांत्रिक और पड़ोसी को गिरफ्तार कर किया घटना का खुलासा,
मासूम राजा उर्फ गुड्डू की बलि देने के लिए हत्या कर दी थी,बाद में मामले में पुलिस ने तांत्रिक चंदन सिंह निवासी नगला बरी थाना सिढ़पुरा कासगंज और पड़ोसी धर्मवीर को गिरफ्तार कर लिया,थाने में कड़ाई से पूछताछ के बाद तोता की तरह जुर्म को कबूल कर लिया। कड़ाई से पूछताछ करने के बाद पुलिस ने बताया कि मासूम की बलि देने से पहले तांत्रिक धर्मवीर के घर तीन बार पहले जीव जंतुओं की बलि चढ़ा चुका था। उसके बाद भी धर्मवीर का बीमार बेटा शिवा ठीक नहीं हुआ। इसके बाद तांत्रिक ने बच्चे की बलि चढ़ाने की राय दी। इसके बाद धर्मवीर ने राजा का अपहरण किया और बलि देने के लिए उसकी हत्या कर दी गई।

कोतवाली पुलिस अगर धर्मवीर को नहीं छोड़ती तो बच सकती थी राजा की जान

 मासूम राजा के गायब होने के बाद परिजनों ने 29 दिसंबर को पुलिस से शिकायत की थी जिस पर पुलिस ने घटना के 24 घण्टे बाद पुलिस ने शिकायत के आधार पर पड़ोसी धर्मवीर को हिरासत में लिया था। पुलिस थाने में बैठाकर पांच दिन तक दामाद की तरह ख़ातिरदारी करती रहती फिर उसके बाद फॉर्मलटी कर छोड़ दिया 

कोतवाली देहात के मानपुर पर राजा का बोरे में बंद में शव मिलने के बाद धर्मवीर को पुलिस ने फिर पकड़ लिया।
आसपास के लोगो का कहना कि पांच दिन तक थाने में बैठे रहे आरोपी से पुलिस शक्ति से अगर पूछताछ करती तो बच सकती थी राजा उर्फ गुड्डू की जान
रिपोर्ट दिलीप कुमार



No comments

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.