Header Ads

सीएम के सख्त निर्देश डीएम जिला स्तर से ही सुनिश्चित करें कि उनके जिले में सड़कें गड्डा मुक्त हैं या नही,बाद में नवीनीकरण और चौड़ीकरण कराए

लखनऊ-मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज शास्त्री भवन में भूतत्व एवं खनिकर्म और परिवहन विभाग से संबंधित समसामयिक कार्यों की समीक्षा बैठक कहा है कि प्रदेश में सड़कों की गड्डा मुक्ति का कार्य युद्ध स्तर पर होना चाहिए और ये सुनिश्चित किया जाए कि 31 मार्च, 2018 तक सड़कों के नवीनीकरण का कार्य समाप्त हो जाए
क्वालिटी में कोई समझौता स्वीकार नहीं किया जाएगा। ई-टेंडिंग व्यवस्थित तरीके से हो और सुनिश्चित किया जाए कि व्यक्ति विशेष को लाभ पहुंचाने की कोशिश ना हो।गड्ढामुक्ति के अभियान में किसी भी तरह की लापरवाही न हो, इसके लिए जवाबदेही तय करनी होगी: जिलाधिकारी के स्तर से दो तरह के सर्वे कराए जाएं। पहला, जिले में कौन-कौन सी सड़कें गड्ढा युक्त हैं और दूसरा,वे किस विभाग की हैं
पहले चरण में एक भी सड़क उत्तर प्रदेश में गड्ढा युक्त न हो, उसके बाद नवीनीकरण व चौड़ीकरण का काम किया जाए
जिले और तहसील स्तर के अधिकारी खुद मौका मुआयना करें। आंकड़ों में फर्क नहीं होना चाहिए।
सभी विभागों से डीएम के स्तर से हर जिले में सड़कों की जांच करवाने के निर्देश दिए।
जिला स्तर पर डीएम सुनिश्चित करें कि उनके जिले में सड़कें गड्डा मुक्त हैं, अगर जिला भ्रमण के दौरान कोई सड़क खराब पाई गई तो जवाबदेही तय की जाएगी
जिला स्तर पर डीएम सुनिश्चित करें कि उनके जिले में सड़कें गड्डा मुक्त हैं, अगर जिला भ्रमण के दौरान कोई सड़क खराब पाई गई तो जवाबदेही तय की जाएगी।Pwd ने जो रफ्तार 100 दिनों में पकड़ी थी उसे बनाए रखने की जरूरत है अभी भी जनता खराब सड़कों की शिकायत कर रही है

No comments

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.