Header Ads

एटा: जैथरा में परिनिर्वाण दिवस पर संत गाडगे को दी गई श्रद्धांजलि

पूरे जीवन मानवता का पाठ पढ़ाते रहे संत गाडगे
एटा: कस्बा जैथरा में संत गाडगे महाराज के परिनिर्वाण दिवस पर गोष्ठी का आयोजन किया गया। जिसमें महामानव संत गाडगे को भावभीनी श्रद्धांजलि दी गई।
   गोष्ठी का शुभारंभ सेवानिवृत्त प्रधानाध्यापक रामदुलारे ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। इसके बाद उपस्थित लोगों ने संत गाडगे महाराज के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर भावभीनी श्रद्धांजलि दी। समाजसेवी शिवपाल सिंह ने कहा कि संत गाडगे ने देश में सभी वर्गों के लिए संघर्ष कर मानवता का पाठ पढ़ाया। उन्होंने बच्चों को शिक्षित किए जाने पर जोर दिया। आचार्य गोवर्धन लाल ने कहा कि हम सभी को संत गाडगे के बताए रास्ते पर चलना चाहिए। संत ने हमेशा गरीबों व दबे कुचलो के लिए संघर्ष किया। रामदुलारे अध्यापक ने कहा कि गाडगे महाराज ने समाज को आगे बढ़ाने के लिए अनेक कार्य किए। उन्होंने हमेशा बच्चों की शिक्षा पर जोर दिया। उनका कहना था कि जब बच्चे शिक्षित होंगे तो अपने आप ही उनका जीवन स्तर का स्वरूप बदला जाएगा। संचालनकर्ता पुरुषोत्तम सिंह ने समाज को बाबा की विचारधारा पर चलने व बच्चों की शिक्षा तथा समाज के संगठन को संगठित कर आगे बढ़ाने पर जोर दिया।
    इस अवसर पर किशोरीलाल, मंगली प्रसाद,अरविंद मौर्य, विमल कुमार,अजय सागर, छत्रपाल दिवाकर, उदयवीर शाक्य, सुनील कुमार, चित्रसिंह, शैलू, प्रदीप कुमार, अनिकेत माथुर, राजकिशोर, अंकेश कुमार सहित अनेक लोग मौजूद थे।

No comments

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.