Header Ads

एटा में सरकारी भूमि पर कब्जा,अतिक्रमण मिला तो लेखपाल होंगे निलंबित-डीएम

एटा-
डीएम अमित किशोर ने अपरान्ह में विकासखण्ड अलीगंज क्षेत्र की ग्राम पंचायत कंचनपुर आसेपुर के राजस्व ग्राम नगला स्यार में चैपाल लगाकर ग्रामीणों की समस्याओं को गंभीरता से सुना। डीएम ने चैपाल में मौजूद ग्रामों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा आमजनहितार्थ अनेकों योजनाएं संचालित की गई है, सभी यह प्रयास करें कि योजना की जानकारी पूर्ण रूप से रखी जाए। सभी जिला स्तरीय अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि आमजनहितार्थ जो भी योजनाएं संचालित है उनसे प्रत्येक पात्र व्यक्ति को लाभान्वित किया जाए। प्रत्येक गांव में अभियान चलाकर युद्धस्तर पर विकास कार्य, निर्माण कार्याें को अंजाम दिया जाए। गांव में सरकार भूमि, चकरोड, पंचायत भवन, विद्यालय आदि पर यदि कहीं कब्जा है तो उसे पुलिस की मदद से सख्ती के साथ हटवाया जाए। डीएम ने लेखपाल को हिदायत दी कि गांव की किसी भी सरकारी भूमि पर कब्जा मिला तो कठोर कार्यवाही करते हुए निलंबित किया जाएगा।

               *डीएम अमित किशोर* ने चौपाल के दौरान ग्रामीणों द्वारा की गई राशन वितरण, दुकान अटैचमेंट की शिकायत पर डीएसओ को निर्देश दिये कि गांव में अतिशीघ्र प्रस्ताव कराकर नई दुकान आवंटित की जाए जिससे ग्रामीणों को उनका राशन समय से मिल सके। पात्रों को उनका राशन मिलना बहुत जरूरी है, साथ ही यह सुनिश्चित करें कि किसी भी अपात्र को राशन वितरण कतई न किया जाए। पात्रता सूची में यदि कोई अपात्र है तो उसका नाम तत्काल सूची से हटाया जाए। डीएम ग्राम में प्रापर विकास कार्य न होने पर ग्राम विकास अधिकारी, ग्राम प्रधान को कड़ी हिदायत देते हुए विकास कार्य कराने के निर्देश दिये। डीएम ने ग्राम प्रधान को चेतावनी दी कि गांव में बिना किसी भेदभाव के विकास कार्य कराया जाए जिससे गांव में किसी भी प्रकार की दिक्कत न हो।

           *डीएम अमित किशोर* ने चौपाल के दौरान निर्देश दिये कि गांव के प्राथमिक, उच्च प्राथमिक विद्यालय में सभी बच्चों का पंजीकरण कराया जाए, गांव का कोई भी बच्चा शिक्षा प्राप्त करने से वंचित नहीं रहना चाहिए। तैनात शिक्षक यह सुनिश्चित करें कि विद्यालय मंे पढ़ने वाले सभी बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मुहैया कराई जाये, मीनू के अनुसार विद्यालय में एमडीएम बनना चाहिए। डीएम ने किसानों से अपील की कि मनरेगा योजना का अधिक से अधिक लाभ उठाया जाये, सभी पात्र अपने-अपने जौबकार्ड बनवायें, जिससे ग्रामीणों को गांव में ही रोजगार दिया जा सके। डीएम ने निरीक्षण के दौरान गांव में स्वच्छ भारत मिशन की प्रगति फेल मिली, ग्रामीणों द्वारा शिकायत की गई कि गांव में पात्र परिवारों को शौचालय से लाभान्वित नहीं किया गया। ग्रामीणों द्वारा की गई शिकायत पर डीएम ने डीपीआरओ को निर्देश दिये कि स्वच्छ भारत मिशन का ग्राम में प्रापर क्रियान्वयन सुनिश्चित कराया जाए।

              डीएम ने ग्रामीणों की मांग पर गांव में भ्रमण कर चरागार की लगभग 50 बीघा जमीन को अतिक्रमण, कब्जे से मुक्त कराया, साथ ही निर्देश दिये कि यदि दोबारा कब्जा हुआ तो संबंधित लेखपाल सहित अन्य राजस्व कर्मी निलंबित किये जाएंगे। डीएम ने डीपीओ को निर्देष दिये कि गांव के अतिकुपोषित बच्चों, गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य में किसी भी प्रकार की कोताही न बरती जाये। गांव में जो भी व्यक्ति पैंशन हेतु पात्र है उनके पैंशन हेतु फार्म भरवाये जायें, दिव्यांगजनों पर विशेष रूप से फोकस किया जाये। चैपाल के दौरान डीआईओएस एसपी यादव, बीएसए एसके तिवारी, डीपीआरओ धनंजय जायसवाल, समाज कल्याण अधिकारी शिव कुमार, डीएसओ उमेश मिश्रा, डीएचओ वीके शर्मा आदि द्वारा अपने-अपने विभाग से संबंधित योजनाओं के बारे में ग्रामीणों को विस्तार से जानकारी दी गई।

             

No comments

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.