Header Ads

एटा में 'सिंघम' की बड़ी कार्यवाही से हड़कंप,करीब 15 लाख की अवैध शराब सहित तस्कर चढ़ा हत्थे

पूर्व में भी कई बड़े शराब माफियाओं पर कस चुके हैं शिकंजा

एटा-
शराब तस्करों पर 'सिंघम' का शिकंजा कसता ही जा रहा है। एक बार फिर उन्होंने 15 लाख की अवैध शराब सहित एक तस्कर को गिरफ्तार किया है।इससे पहले भी 'सिंघम' दो बार 10 और 8 लाख की अवैध शराब पकड़कर तस्करों को जेल भेज चुके हैं। वहीं एक शराब माफिया की करोड़ों की संपत्ति जब्त करने की कार्यवाही कर चुके हैं। एक के बाद एक हो रहीं लगातार कार्यवाहियों से शराब तस्करों में हड़कम्प मच गया है। एसएसपी ने 'सिंघम' को पुरस्कृत करने की घोषणा की है।
     वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अखिलेश कुमार चौरसिया ने पत्रकार वार्ता में बताया कि गुरुवार रात को थानाध्यक्ष पिलुआ सुधीर कुमार सिहं, एसएसआई अखिलेश कुमार पुलिस बल के साथ थाना क्षेत्र में वाॅछित अपराधी/संदिग्ध वाहन आदि की चैकिगं कर रहे थे। भदवास बार्डर पर चैकिंग करते समय सिकन्दराराऊ की तरफ से एक कैन्टर गाड़ी आती दिखायी दी। गाड़़ी की स्थिति संदिग्ध लगने पर पुलिस टीम ने ड्राईविंग सीट पर बैठे अभियुक्त को पकड़कर पूछताछ की,तो अभियुक्त ने बताया कि वह अपने साथी जीते निवासी फरीदाबाद के कहने पर इस कैन्टर गाड़ी से अवैध शराब को हरियाणा से लोड कराकर बिहार बार्डर पर ले जा रहा था। इससे पहले भी चार-पाॅच बार शराब की तस्करी कर चुका हॅू। हर चक्कर का हमें करीब एक लाख रुपया का मुनाफा हो जाता है। पुलिस को धोखा देने के लिये शराब की पेटियों को कैन्टर की बाडी व इंजन के बीच में बनाये कैबिन में रखा है। कब्जे में लिये गये कैन्टर को चैक किया गया तो उसमें 215 पेटी अवैध शराब की बरामद की गयी।  खोल कर देखने पर पेटियों में रखी बोतलों पर  *Royale stage whisky, For Sale Only In Hariyana*  अंकित हैे। बरामद शराब की अनुमानित कीमत लगभग 15 लाख रूपये है। इस अवैध धन्धे में संलिप्त अभियुक्तगण अपने व्यक्तिगत लाभ के लिये दूसरे प्रान्त से सस्ते दर पर शराब खरीद कर उ0प्र0 राज्य में बेचकर उ0प्र0 सरकार के राजस्व को नुकसान पहुॅचा रहे है। उन्होंने बताया कि इस संबंध में अभियुक्तगण के विरूद्ध थाना पिलुआ पर अभियोग पंजीकृत होकर प्रभावी वैधानिक कार्यवाही की जा रही है तथा इस अवैध धन्धे में संलिप्त अभियुक्तों की गिरफ्तारी के सार्थक प्रयास जारी है।
     एसएसपी ने पुलिस टीम को  5000 रुपये से पुरस्कृत करने की घोषणा की है।

*अभियुक्तों का नामपता:-*
*1-* राकेश कौशिक पुत्र हमराज कौशिक निवासी गोविन्द नगर थाना जेवर, गौतमबुद्ध नगर। *(गिरफ्तार)*
*2-* जीते नागर पुत्र नामालूम निवासी फरीदाबाद, हरियाणा। *(फरार)*

*बरामद माल का विवरण:-*
*1-* 215 पेटी हरियाणा मार्का शराब कीमत करीब 15 लाख रूपये।
*2-* एक कैण्टर नम्बर एचआर 38 एम 4056
*3-* तीन फर्जी नम्बर प्लेट।

रिपोर्ट-सुनील कुमार

No comments

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.