Header Ads

कावड़ियों के रूट पर पर्याप्त साफ सफाई सुनिश्चित करायें, अव्यवस्था पर होगी कार्यवाही-डीएम*

साम्प्रदायिक सौहार्द, कानून व्यवस्था कायम रखना बहुत जरूरी

एटा-
जिला मजिस्ट्रेट अमित किशोर ने कहा कि श्रावण मास को दृष्टिगत रखते हुए साम्प्रदायिक सौहार्द कायम रहना चाहिए, साथ ही कानून एवं शांति व्यवस्था के तहत कोई समझौता स्वीकार नहीं होगा। सभी एसडीएम, तहसीलदार, सीओ, थाना प्रभारी गंभीरता से कार्य करने हेतु सौंपे गये अपने-अपने दायित्वों का पूर्ण निष्ठा के साथ निर्वहन करें। कानून व्यवस्था से खिलवाड़ किसी भी दशा में बर्दाश्त नहीं किया जायेगा, मिश्रित आबादी वाले रूटों पर सभी एसओ एक बार पुनः चैकिंग कर लें, कांवड़ियों को किसी भी प्रकार की समस्या नहीं होनी चाहिए। डीएम ने खाद्य, पूर्ति विभाग को निर्देष दिये कि आगामी त्योहार, वर्षा के मौसम को दृष्टिगत मिठाई की दुकानों पर छापेमारी की जाये।

              जिला मजिस्ट्रेट अमित किशोर सोमवार को अपरान्ह में श्रावण मास को दृष्टिगत रखते हुए जनपद में कानून एवं शांति व्यवस्था सुदृढ़ बनाये रखने के संबंध में कलक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित बैठक में संबंधित अधिकारियों, सीओ, थाना प्रभारियों आदि को निर्देशित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि श्रावण मास में प्रत्येक सोमवार को होने वाले जलाभिषेक के दौरान किसी भी प्रकार से कानून एवं शांति व्यवस्था पर असर नहीं पड़ता चाहिए। शासन स्तर से प्रमुख सचिव गृह व पुलिस महानिदेशक सहित स्वयं मुख्य सचिव भी निगाह बनाये रखे हुए हैं, औचक भ्रमण भी किया जा सकता है। जनपद के चार प्रमुख मंदिरों कैलाश मंदिर, परसोंन शिव मंदिर, धौलेश्वर, पटना पक्षी विहार पर विशेष रूप से फोकस किया जाये, इन सभी मंदिरों के साथ-साथ अन्य मंदिरों के प्रबंधन तंत्र के लोगों के साथ बैठक करने के साथ ही सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराई जायें। कांवड़ियों के आने जाने वाले रूटों पर सड़क मार्ग की जो भी कमियां हैं उन्हें दूर कर दिया जाये।

          *एसएसपी अखिलेश कुमार चौरसिया* ने कहा कि सभी थानों पर पीस कमेटी, कांवड़ियांे के प्रतिनिधि मंडल की बैठक आयोजित कर ली जाये। साफ सफाई, शौचालय, विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित कराई जाये, मंदिरांे पर पर्याप्त संख्या मंे महिला कांस्टेबल तैनात किये जायेंगे जिससे किसी भी प्रकार की घटना न हो। सभी सीओ, थाना प्रभारी अपने-अपने क्षेत्र के मंदिरों को चैक कर लें, कांवड़ यात्रा को दृष्टिगत किसी भी स्थान पर अप्रिय घटना न होने दी जाये, छोटी-छोटी घटनाओं को भी गंभीरता से लिया जाये। डीजे पूर्णतः प्रतिबंधित है, छोटे लाउडस्पीकर भी बिना अनुमति के नहीं बजाये जा सकेंगे। डायल 100 की गाड़ियां मंदिरों एवं कावड़ियों के आने जाने वाले रास्ते पर अवश्य रहनी चाहिए, एम्बूलैंस भ एलर्ट रहें।

     
अपर जिलाधिकारी प्रशासन सतीश पाल* ने कहा कि नगर पालिका नगर निकाय क्षेत्रों में ईओ समस्त व्यवस्थाएं सुनिश्चित कर लें, किसी भी प्रकार की शिकायत नहीं आनी चाहिए। मंदिरो के आसपास जलभराव की स्थिति नहीं होनी चाहिए, यदि कहीं पर जलभराव है तो वहां समतलीकरण कराया जाये। धारा 144 लागू है उसका कड़ाई से अनुपालन कराया जाये।

           

No comments

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.