Header Ads

बुलन्दशहर में डॉक्टर ने ली जच्चा बच्चा की जान,परिजनों ने किया हंगामा

बुलंदशहर-पहासू थाना क्षेत्र में बांके-बिहारी नर्सिंग होम पर डिलीवरी के दौरान जच्चा और बच्चा की मौत परिजनों ने चिकित्सक पर लगाया लापरवाही का आरोप नर्सिंग होम छोड़  भागे संचालक स्वास्थ्य विभाग की मिली-भगत से चल रहा था अवेध नर्सिंग होम स्वास्थ्य विभाग की सरपरस्ती में अवैध नर्सिंग होम चला रहे झोला छाप की लापरवाही ने पहासू में जच्चा और बच्चे को मौत की नींद में  सुला दिया पहासू  में ईदगाह के पास स्थित बांके बिहारी नर्सिंग होम में भर्ती मोहल्ला बड़ा निवासी राजू की पत्नी सुमन को प्रसव पीड़ा होने पर दो दिन पूर्व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया था पर वहाँ पर उल्टा बच्चा बता कर बाहर के लिए रेफर कर दिया परिजन गर्भ-वती को ईदगाह स्थित बांके बिहारी नर्सिंग होम में ले गए वहां भर्ती कर लिया परिजनों के अनुसार नर्सिंग होम वालों ने पहले ही काफी पैसे एडवांस में जमा करा लिए थे, बीती रात प्रसूता की तबीयत अचानक बिगड़ गयी परंतु अस्पताल में कोई चिकित्सक मौजूद नहीं था, शनिवार की सुबह उसकी डिलीवरी कर दी इसी दौरान प्रसूता की हालत बिगड़ गयी और अधिक खून बहने की वजह से जच्चा और बच्चे की मौत हो गयी, परिजनों ने दोनों  की मौत के लिए चिक्तिसको  को जिम्मेदार  बताते हुए हंगामा कर दिया पहले तो मौजूद डॉक्टर ने  हड़काया पर  मोहल्ले के सेकड़ो लोगो के आने पर सभी लोग नर्सिंग होम छोड़ कर भाग गए कमीशन के चक्कर में भेजे जा रहे मौत के मुंह में गर्भवती महिलाओं के सुरक्षित प्रसव और  नवजात शिशु- मृत्यु दर कम करने के लिए चलायी जा रही जननी सुरक्षा योजना को पहासू में पलीता लगाया जा रहा है। अस्पताल में बैठी आशा और नर्सें मोटे कमीशन के लालच में अप्रशिक्षित लोगो के  पास भेज रही हैं मृतका के पति राजू ने थाने में दी तहरीर में चिकित्सक और नर्सिंग होम के स्टाफ के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने की मांग की है  थानाध्यक्ष सुधीर कुमार का कहना है कि की शव को पी एम् के लिए भेजा जा रहा है तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज करके कानूनी कार्यवाही की जायेगी झोला-छापों पर चलेगा  स्वास्थ्य विभाग का डंडा पहासू में जच्चा और बच्चे की मौत के बाद स्वास्थ्य विभाग चौकन्ना हो गया है मुख्य चिकित्साधिकारी के एन तिवारी ने पहासू की घटना में सरकारी अस्पताल से गर्भवती को रैफर करने के मामलो की जांच के आदेश दिए है ए सी एम ओ मामले की जांच के लिए पहासू पहुच गये हैं कहा है कि ज़िले में अवैध नर्सिंग होम और झोला छापो के खिलाफ चिन्हित कर बड़ा अभियान चलाया जाएगा


'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.