Header Ads

नोएडा जेवर गैंगरेप कांड में पीड़िता ने सुनाया रोते बिलखते अपना दर्द,जज साहब दर्द सुनते ही रह गए दंग

नोएडा-
जेवर गैंगरेप कांड में पीडि़त महिलाओं ने अदालत में जो बयान बयां किया उसे सुनकर मामले की सुनवाई कर रहे जज भी चकित हो गए। पीडि़त महिलाओं ने उस रिपोर्ट को खारिज कर दिया, जिसमें रेप की बात को नकारा गया था। पीडि़त महिलाओं ने कहा कि जज साहब हमारे साथ रेप किया गया। 
इतना ही नहीं पीडि़त महिलाओं ने कहा कि बदमाश पुलिस से बेखौफ थे। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि दुष्‍कर्म के बाद पुलिस की मौजूदगी में सारे बदमाश पैदल गए और पुलिस मूक दर्शक बनी रही।
पीडि़त महिलाओं ने कोर्ट में दिए गए अपने बयान में उस रात हुई हैवानियत का दर्द बयां किया है। बयान में ये भी बताया है कि बदमाशों ने उनके साथ कुकर्म भी किया। एक पीडि़ता ने कहा है कि उसके साथ दुष्कर्म करने वाला एक बदमाश मोटा और कद में छोटा था।
महिलाओं ने बयान में कहा है कि जब वह सिर ऊपर उठाती थीं तो बदमाश उनके पेट में लात मारते थे। बदमाशों ने महिलाओं की कनपटी पर पिस्टल तान कर कहा था कि सिर ऊपर मत उठाना। एक पीडि़ता ने बयान में कहा है कि एक बदमाश ने कारतूस से भरी काले रंग की बेल्ट पहन रखी थी। पुलिस के सामने से बदमाश पैदल फरार हुए थे। पुलिस ने ही बंधक बने पुरुषों को मुक्त किया था।
उधर, पीड़ित महिलाओं के साथ सामूहिक दुष्कर्म होने की बात को सीएमओ ने रिपोर्ट के आधार पर गलत बताया था, लेकिन पीड़ित महिलाओं का कहना है कि बदमाशों ने उनके साथ दुष्कर्म किया था और वो इस संबंध में मजिस्ट्रेट के सामने बयान देंगी।
जेवर कांड की पीड़ित महिलाओं की मेडिकल जांच के बाद गत शुक्रवार को मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने खुलासा किया था कि जेवर में महिलाओं के साथ दुष्कर्म की पुष्टि नहीं हुई है। हालांकि महिलाओं के कपड़े FSL जांच के लिए भेज दिए गए हैं। सीएमओ के मुताबिक तीन हफ्ते में FSL रिपोर्ट आने के बाद मुकम्मल तौर पर पता चल सकेगा कि महिलाओं से सामूहिक दुष्कर्म हुआ था या नहीं।
इस जांच के बाद पुलिस की तरफ से की गई प्रेस कॉन्फ्रेंस में एसएसपी लव कुमार ने कहा कि प्रारंभिक जांच में यह सामने आया है कि महिलाओं के साथ दुष्कर्म नहीं हुआ है। जांच के लिए अन्य चीजें लखनऊ भेजी गई हैं, जिसकी रिपोर्ट 15 दिनों में आएगी।
एसएसपी ने कहा प्राथमिक जांच में पाया गया कि पीड़ितों के साथ किसी तरह की कोई सेक्सुअल असाल्ट नहीं हुआ है पर हम एक ओर मेडिकल रिपोट का इंतजार कर रहे हैं जिससे साफ हो पाएगा कि महिलाओं के साथ रेप किया गया है या नहीं
'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.