Header Ads

206 करोड़ 37 लाख से जनपद का होगा सर्वांगीण विकास। विकास,निर्माण कार्य कराते समय जनप्रतिनिधियों की सहभागिता सुनिश्चित करायें-प्रभारी मंत्री*

प्रभारी मंत्री अतुल गर्ग 2017-18 हेतु जिला योजना अनुमोदित*
एटा-
मा0 राज्य मंत्री अतुल गर्ग जी, खाद्य एवं रसद, बांट माप, खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन उत्तर प्रदेश की अध्यक्षता में आयोजित जिला योजना संरचना समिति की बैठक में वर्ष 2017-18 के लिए रूपये 206 करोड़ 37 लाख की जिला योजना अनुमोदित की गयी है। योजना के तहत जनपद के गरीब, निर्धन, निर्बल, अल्पसंख्यक, पिछड़े व अनुसूचित वर्ग, महिला कल्याण, विकलांग कल्याण, शिक्षा, स्वास्थ्य, पेयजल, सड़क के साथ ही ग्राम्य विकास पर विशेष बल दिया गया है। जनपद के प्रभारी मंत्री जी ने बैठक में सम्मिलित सभी संबंधित अधिकारियांे को निर्देशित करते हुए कहा कि जनपद में सभी कार्य पूर्ण गुणवत्ता व मानक के अनुरूप समय से पूर्ण किये जायें, इसमें किसी भी प्रकार की शिथिलता एवं लापरवाही न बरती जाये, शासन से आवंटित धनराशि का पूर्ण सदुपयोग किया जाये। प्रदेश सरकार द्वारा जनहित में चलाई जा रही सभी शासकीय जनकल्याणकारी योजनाओं एवं विकास कार्याें का पूरा लाभ प्रत्येक पात्र व्यक्ति तक हर हाल पहुुंचना चाहिए।
            प्रभारी मंत्री अतुल गर्ग ने कहा कि जनपद ऐसे विकास कार्य कराये जायंे जिससे यह लगे कि सरकार अब बदल गई है, नई सरकार से जनता को भी काफी उम्मीदें हैं। सभी अधिकारियों द्वारा शासन की मंशानुरूप कार्य करते हुए जनता की समस्याओं को प्रमुखता से सुनने के बाद उसका त्वरित गति से गुणवत्तापूर्ण निस्तारण किया जाना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि शहर के प्रमुख पर्यटन स्थल पटना पक्षी बिहार का वृहद स्तर पर अभियान चलाकर सौन्दरीयकरण कराया जाये। जनपद में विकास एवं निर्माण कार्य कराते हुए समय जनप्रतिनिधियों की भी सहभागिता सुनिश्चित कराई जाये, उनके क्षेत्र में कार्य कराये जाने से पूर्व उन्हंे अवगत भी कराया जाये। समिति के सदस्यों द्वारा मचुआ रजबाहा में पानी न आने की शिकायत मा0 मंत्री जी के समक्ष रखी गई, जिस पर मंत्री जी ने तत्काल कार्यवाही हेुत आश्वस्त किया गया। ईशन नदी सहित जनपद की प्रमुख नदियों की साफ सफाई तत्काल कराई जाये, संज्ञान में आया है कि टैण्डर होने के बावजूद भी सफाई नहीं कराई जा रही है जो काफी निराशाजनक है। सिंचाई विभाग द्वारा कार्यशैली सुधारी जाये अन्यथा की स्थिति में कड़ी कार्यवाही की जायेगी।
             प्रभारी मंत्री द्वारा जिला योजना वर्ष 2017-18 के लिए अनुमोदित 206 करोड़ 37 लाख में लघु एवं सीमांत कृषकों को सहायता हेतु 500 लाख, कृषि हेतु 30 लाख, पशुपालन हेतु 553.90 लाख, दुग्ध विकास 278.20 लाख, वन विभाग 107.84 लाख, ग्राम्य विकास विशेष कार्यक्रम हेतु 314.62 लाख, भूमि एवं जल संसाधन हेतु 50 लाख, रोजगार कार्यक्रम 4828.52 लाख, पंचायती राज 1380 लाख, निजी लघु सिंचाई 356.20 लाख, राजकीय लघु सिंचाई 66.45 लाख, अतिरिक्त ऊर्जा श्रोत हेतु 109.50 लाख, सड़क एवं पुल 2484.61 लाख, पर्यटन 100 लाख, प्राथमिक शिक्षा 840 लाख, माध्यमिक शिक्षा 536.19 लाख, उच्च शिक्षा 20 लाख, ऐलोपैथी 30 लाख, ग्रामीण जलापूर्ति एवं स्वच्छता 2163.23 लाख, ग्रामीण स्वच्छता कार्यक्रम 579.48 लाख, ग्रामीण आवास 3690 लाख, पिछड़ी जाति कल्याण 145.21 लाख, समाज कल्याण 395.76 लाख की धनराशि जनपद से प्रस्तावित परिव्यय के अनुसार कुल 20637 लाख की धनराशि शासन से अनुमोदन हेतु भेजी जा रही है।
            बैठक के अंत में जिलाधिकारी अमित किशोर द्वारा उपस्थित प्रभारी मंत्री जी सहित सभी जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों का आभार प्रकट किया गया। उन्होंने मा0 मंत्री जी को आश्वस्त किया कि उनके द्वारा बैठक के दौरान दिये गये निर्देशों का अक्षरशः अनुपालन सुनिश्चित किया जायेगा, जो भी कमियों है उनको तत्काल दूर करते हुए जनपद का सर्वांगीण विकास किया जायेगा। जिलाधिकारी अमित किशोर, सीडीओ एसएन सिंह कुशवाह आदि द्वारा मा0 मंत्री जी सहित सभी जनप्रतिनिधियों का पुुष्पगुच्छ भेंट कर भव्य स्वागत किया। जिला योजना बैठक से पूर्व मा0 मंत्री जी की अध्यक्षता में पूर्व में आयोजित बैठक की कार्यवृत्ति पर समीक्षा भी की गई।
           


'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.