Header Ads

डीएम की अध्यक्षता में सूखा राहत नियंत्रण परिषद की बैठक सम्पन्न

एटा-
डीएम अमित किशोर की अध्यक्षता में सूखा प्रबंधन योजना वर्ष 2017-8 के तहत सूखा राहत नियंत्रण परिषद की बैठ का आयोजन कलैक्ट्रेट सभागार में किया गया। डीएम ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि सूखे से निपटने के लिए सभी विभागों द्वारा कार्य योजना तत्काल प्रस्तुत की जाये, जिसकी संबंधित एसडीएम द्वारा जांच रिपोर्ट भी भेजी जाये। जनपद मंे जो भी हैंडपंप खराब पड़े हैं उन्हें अतिशीघ्र ठीक कराया जाये इसके लिए 14 वें वित्त के तहत उपलब्ध धनराशि का पूर्ण सदुपयोग करें। विद्युत विभाग द्वारा यह सुनिश्चित किया जाये कि विद्युत दोष के कारण कोई भी नलकूप खराब न हो, साथ ही जो भी ट्रांसफार्मर खराब पड़े हैं उन्हें तत्काल ठीक कराकर रोस्टर के अनुसार विद्युत आपूर्ति शतप्रतिशत सुनिश्चित कराई जाये।
              डीएम अमित किशोर ने कहा कि सूखे से उत्पन्न समस्याओं एवं उसके समाधान हेतु नगर पालिका, नगर पंचायत, तहसीलदार, सिंचाई विभाग, जिला पूर्ति अधिकारी, पुलिस विभाग, विद्युत विभाग, पशु चिकित्साधिकारी, चिकित्साधिकारी, विकास अधिकारी, कृषि विभाग, वन विभाग, राजस्व विभाग आदि संबंधित विभागों द्वारा अपने दायित्वों को बखूबी निभाया जाये, इसमें किसी भी प्रकार की शिथिलता बरतने पर कार्यवाही की जायेगी। जलेसर क्षेत्र में पानी की समस्या पर विशेष रूप से फोकस किया जाये। उन्होंने कहा कि सूखा नियंत्रण कक्ष की भी स्थापना की गई है, जिसके तहत जिला स्तर पर जिलाधिकारी शिविर कार्यालय में प्रातः 10 बजे से 5 बजे तक सूखा नियंत्रण कक्ष बनाया गया है, जिसका दूरभाष नम्बर 233301 है, कलैक्ट्रेट पर भी सूखा कन्ट्रोलरूम की स्थापना की गई जिसका नम्बर 233390 है जिसके प्रभावी अधिकारी दैवी आपदा एडीएम वित्त एवं राजस्व हैं। इसके अलावा एटा तहसील पर 9411090288, 233314 एवं अलीगंज में 9455362287, 223143, जलेसर में 9454417786, 257227, अधिशासी अभियंता सिंचाई खण्ड के मो0 नम्बर 9415084416, 233390 पर सम्पर्क स्थापित किया जा सकता है।
           जिलाधिकारी ने कहा कि सूखा समिति के गठन के अन्तर्गत राजकीय व व्यक्तिगत नलकूप, पशु राहत शिविर, चारे की व्यवस्था, चिकित्सा सुविधा, राहत हेतु कल्याणकारी योजनाओं पर भी फोकस किया जा रहा है। जलेसर विधायक संजीव दिवाकर ने कहा कि जलेसर क्षेत्र के किसी भी रजवाह में पानी नहीं आ रहा है, वही विद्युत विभाग के जेई फोन नहीं उठाते। सांसद प्रतिनिधि ने क्षेत्र में नहरों की सिल्ट सफाई न होने की शिकायत की। बैठक में विद्युत विभाग, स्वास्थ्य विभाग, जल निगम, पशु पालन आदि द्वारा भी सूखे से बचाव हेतु जानकारी उपलब्ध कराई गई।
'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.