Header Ads

आईजी नवनीत सिकेरा के एक फ़ोन पहुँची दरबाजा गिराने भारी संख्या में पुलिस

एटा-
यूपी पुलिस की वैसे तो हर बात ही निराली है और अगर काम अपने ही विभाग का हो और फिर आई जी का फोन आ जाये तो फिर पुलिस की मुस्तैदी तो देखते ही बनती है। जी हॉं, आई जी नवनीत सिकेरा के एक फोन पर एटा पुलिस इतनी सक्रिय हो गयी कि भारी संख्या में पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच कर एक परिवार के द्धारा निर्माण कराये जा रहे गेट को जेसीबी बुलाकर धवस्त कर दिया गया, इस दौरान स्थानीय लोगों ने नवनीत सिकेरा के विरोध में जमकर नारेबाजी की। दरअसल ये पूरा मामला शहर कोतवाली के यादव नगर का है जहॉं राम मूर्ति यादव और आई जी नवनीत सिकेरा के भतीजे का मकान आमने-सामने है। दरअसल पीड़ित रिटायर्ड इंस्पेक्टर राम मूर्ति का आरोप है कि बैनामा कराई गयी जमीन पर गेट के निर्माण को लेकर आई जी के भतीजे द्धारा विरोध किया जा रहा था। जिसके बाद पिछले गेट को लगाने के निर्माण को पुलिस ने नहीं होने दिया। आई जी की धमक के चलते जैसे ही उनका फोन एटा पुलिस को आया पूरा पुलिस और प्रशासनिक अमला आनन फानन मौके पर पहुंचा हालांकि इस दौरान पीड़ित परिवार और कालोनी के निवासियों द्धारा पुलिस का जमकर विरोध किया गया और नवनीत सिकेरा के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गयी लेकिन पुलिस ने जेसीबी मंगाकर गली में लगाये गये गेट को तुड़वा दिया। इस दौरान पीड़ित पक्ष ने आई जी नवनीत सिकेरा के दबाव में पुलिस द्धारा जबरन कार्यवाई किए जाने की बात कही और पुलिस और प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की तो वहीं प्रशासन के आला अधिकारी इस अवैध निर्माण करार दे कर धवस्त करने की बात कह रहा है।
'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.