Header Ads

यूपी मे शस्त्र लाइसेंस की सीमा को विस्तारित हेतु सम्पुर्ण भारत कराया जा सकता है पहले किया गया नजदीक तीन राज्य अब सम्पूर्ण भारत-प्रमुख सचिव गृह

लखनऊ-
संपूर्ण भारत या उसके कुछ राज्यो तक व्यक्तिगत शस्त्र लाइसेंसों का सीमा विस्तार किये जाने से संबंधित आदेश प्रदेश के प्रमुख सचिव गृह देवाशीष पांडे द्वारा जारी कर दिया गया।
तीन पृष्ठ के शासनादेश दिनांक 18 अप्रैल 2017 जो सूबे के समस्त जिला मजिस्ट्रेट को संबोधित है में भारत सरकार द्वारा आयुध नियमावली में किये गये संशोधनों के परिपेक्ष्य में विभिन्न श्रेणियों के शस्त्रों के सीमा विस्तार की पूरी प्रक्रिया का वर्णन किया गया है
योगी आदित्य नाथ के मुख्यमंन्त्री बनने के एक माह के भीतर ही अब आर्म लाइसेन्स धारकों को यह अधिकार प्राप्त हो जाएगा कि वे अपना आर्म लाइसेन्स समूर्ण भारत या भारत के किन्ही राज्यो तक जिसे वह चाहता है,उत्तर प्रदेश सरकार में आवेदन कर विस्तारित करा सकता है।इसके लिए संबंधित लाइसेन्स धारक को जिला मैजिस्ट्रेट के माध्यम से आवेदन करना होगा।जिला मजिस्ट्रेट की आख्या और संस्तुति के अनुरूप राज्य सरकार अमुक राज्यो या सम्पूर्ण भारत के लिए लाइसेंस का विस्तारिकरण का आदेश पारित करेगी।
यहाँ यह बताना भी उचित होगा कि उच्च न्यायालय के आदेशों के अनुपालन में,कुछ श्रेणियों को छोड़कर, नये शस्त्र लाइसेन्स बनाने पर रोक लगी है। पुराने शस्त्र लाइसेंस की सीमा को विस्तारित कराया जा सकता है।
18 अप्रैल को जारी शासनादेश में सीमा विस्तार से पूर्व लाइसेन्स अधिकारी को इस आशय के निर्देश भी दिए गए है कि वह भलि भांति संतुष्ट हो ले कि अमुक व्यक्ति के लाइसेंस विस्तारित करने के कारण और औचित्य क्या है।
जिला मजिस्ट्रेट को बाकायदा एक प्रपत्र बनाकर दिया गया है कि वे उसके अनुसार विस्तारण का प्रस्ताव प्राप्त कर कार्यवाही करेंगे


'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.