Header Ads

मण्डलायुक्त, डीएम ने लिया यूपी बोर्ड, विश्वविद्यालय की परीक्षाओं का जायजा,केन्द्र पर नकल मिली तो सेक्टर मजिस्टेट, स्टेटिक मजिस्ट्रेट,वीडियोग्राफर्स के खिलाफ होगी कार्यवाही

एटा-
मण्डलायुक्त सुभाष चन्द्र शर्मा, जिलाधिकारी विजय किरन आनन्द द्वारा शनिवार को अपरान्ह में द्वितीय पाली में आयोजित यूपी बोर्ड की जीव विज्ञान विषय की परीक्षा का देव इण्टर कालेज चैथामील पहुंचकर जायजा लिया। मण्डलायुक्त, डीएम ने केन्द्र व्यवस्थापक को निर्देश दिये कि बोर्ड परीक्षाएं नकलविहीन, शंातिपूर्ण सम्पन्न कराई जायें, साथ ही केन्द्र पर सीसीटीवी कैमरे परीक्षा के दौरान संचालित मिलने चाहिए। केन्द्र पर यदि शिकायत मिली तो संबंधित सेक्टर मजिस्ट्रेट, वीडियोग्राफर, केन्द्र व्यवस्थापक के खिलाफ कड़ी कार्यवाही तो होगी ही साथ ही केन्द्र को डिबार घोषित किया जायेगा। केन्द्र पर तैनात कक्ष निरीक्षक, परीक्षार्थियों के खिलाफ भी कार्यवाही करते हुए जेल भेजा जायेगा।
       मण्डलायुक्त सुभाष चन्द्र शर्मा, डीएम विजय किरन आनन्द ने यूपी बोर्ड परीक्षाओं के अंतर्गत द्वितीय पाली में देव इण्टर कालेज चैथामील का निरीक्षण किया। केन्द्र पर द्वितीय पाली में इण्टरमीडिएट के 73 पंजीकृत परीक्षार्थियों में से कुल 65 परीक्षार्थी अपनी परीक्षा दे रहे थे, उन्होंने कक्ष निरीक्षक को निर्देश दिये कि परीर्थियों की काॅपी एकजैसी नहीं मिलनी चाहिए। संज्ञान में आया है कि परीक्षा कक्ष के बाहर खड़े होकर केन्द्रों पर नकल कराई जा रही है जो कि काफी निराशाजनक है, बच्चों एवं उनके अभिभावकों के भविष्य के साथ खिलवाड़ न होने दें।
        डीएम विजय किरन आनन्द द्वारा एसके पीजी कालेज जीटी रोड में आयोजित तृतीय पाली में रसायन विज्ञान की परीक्षा का जायजा लिया। केन्द्र पर सीसीटीवी कैमरे तो संचालित मिले किन्तु चैकिंग के दौरान फुटैज ठीक नहीं पाई गई, जिस पर डीएम ने केन्द्र व्यवस्थापक को निर्देश दिये कि परीक्षा समाप्ति के बाद परीक्षा की सीसीटीवी फुटेज की सीडी उपलब्ध कराई जाये। केन्द्र पर हर नकल कतई नहीं होनी चाहिए, अन्यथा की दशा में कड़ी कार्यवाही करते हुए जेल भेजा जायेगा।
          डीएम ने निर्देश दिये कि विश्वविद्यालय की परीक्षाओं को जनपद में स्वतत्र, निष्पक्ष, शांतिपूर्ण एवं नकलविहीन सम्पन्न कराया जाये, तैनात जोनल एवं सेक्टर मजिस्ट्रेट, वीडियोग्राफर द्वारा गंभीरता से कार्य किया जाये, यदि किसी केन्द्र से शिकायत मिली कि नकल कराने में सरकारी मशीनरी द्वारा सहयोग किया जा रहा है, तो संबंधित के खिलाफ भी कड़ी कार्यवाही की जायेगी

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.