Header Ads

एटा डीएम के आदेश के बाबजूद भी डॉक्टरों ने नही किया पोस्टमार्टम,19 घण्टे इंतजार के बाद जिला अस्पताल के गेट के सामने शव रखकर NH91 किया जाम

एटा- जिला अस्पताल में डॉक्टरों की संवेदनहीनता का आई सामने,संदिग्ध परिस्थितियों में विवाहिता की हुई मौत के बाद परिजन डॉक्टरों से पीएम कराने की गुहार लगाते रहे लेकिन उनका दिल नहीं पसीजा। देर रात्रि डीएम एटा के पीएम कराने के निर्देश को भी हवा में उड़ाने के बाद जब शव का 19 घंटे तक पोस्टमार्टम नहीं हुआ तो आक्रोशित परिजनों और ग्रामीणों ने एन एच- 91 पर जाम लगा दिया।
एनएच 91 पर 10 से 12 किमी तक लम्बा जाम लग गया। बताया जा रहा है कि निधौलीकला थाना क्षेत्र के हिम्मतपुर गांव में मंगलवार की सुबह 5 बजे 22 वर्षीय कल्पना की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गयी थी। परिजनों ने ससुरालीजनों पर दहेज की खातिर गला दबाकर हत्या किए जाने का आरोप लगाया था और दोपहर तीन बजे मृतका के परिजन शव को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे। ड़ाक्टर शव का पोस्टमार्टम करने में टाल-मटोल करते रहे। डॉक्टरों द्वारा संवेदनहीनता दिखाए जाने के बाद मृतका के परिजन देर रात्रि जिलाधिकारी एटा विजय किरन आनन्द से मिले जिसके बाद डीएम ने तत्काल सीएमओ को पोस्टमार्टम कराने के निर्देश दिए।
प्रशासन के हस्तक्षेप के बाद हुआ पोस्टमार्टम
डीएम के आदेशों की भी डॉक्टरों ने धज्जियां उड़ा दीं और भीषण गर्मी में खराब होते शव को 19 घंटे बीत जाने के बाद परिजनों का धैर्य जवाब दे गया। जिसके बाद आक्रोशित परिजनों ने एनएच-91 पर जाम लगा दिया। मौके पर पहुंचे एसडीएम सदर संजीव कुमार ने मामले की गंभीरता को देखते हुए शव का तत्काल पीएम कराने और लापरवाह डॉक्टरों और कर्मचारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का आश्वासन दिया, तब लोगों ने जाम खोला। इस दौरान करीब डेढ़ घंटे तक एन एच-91 पर करीब 10 से 12 किमी लम्बा जाम लग गया।
'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.