Header Ads

खाता धारक अपने खाते को मोबाइल नम्बर, आधार कार्ड से लिंक करायें-डीएम, कलैक्ट्रेट सभागार में विशेष डीएलसीसी बैठक में डीएम ने सभी बैंकर्स को दिये निर्देश

एटा-
डीएम विजय किरन आनन्द की अध्यक्षता में कलैक्ट्रेट सभागार में विशेष डीएलसीसी बैठक का आयोजन किया गया। डीएम ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि जनपद में सरकारी योजनाओं, किसान क्रेडिट कार्ड, फसल बीमा योजना आदि के लाभ हेतु समस्त खाताधारकों द्वारा अपने खाते को मोबाइल नम्बर, आधार कार्ड से लिंक 31 मार्च 2017 से पूर्व करा लिया जाये। उन्होंने कहा कि आधार कार्ड, मोबाइल नम्बर से लिंक हुए बिना आमजनमानस को सरकारी योजनाओं आदि का लाभ नहीं मिल सकेगा। जनपद में आधार कार्ड, मोबाइल नम्बर सीडिंग की प्रगति काफी खराब है, इसमें सभी बैंकर्स द्वारा पूर्ण सहयोग प्रदान किया जाये, बैकर्स द्वारा अपने स्तर से भी आधार कार्ड, मोबाइल नम्बर सीडिंग की प्रगति में सुधार हेतु पर्याप्त मात्रा में प्रचार प्रसार कराया जाये।
          डीएम विजय किरन आनन्द ने सभी बैंकर्स को संबोधित करते हुए कहा कि आधार कार्ड सीडिंग के प्रगति ग्रामीण बैंक आॅफ आर्यावर्त 33 प्रतिशत, इण्डियन ओवरसीज बैंक 12 प्रतिशत, आईसीआईसीआई बैंक 20 प्रतिशत, आईडीबीआई बैंक 33 प्रतिशत सहित जनपद की कुल 48 प्रतिशत है जो कि काफी कम है, अतिशीघ्र सुधार लायें, मार्च के अंत तक हर हाल में शतप्रतिशत खाता धारकों का मोबाइल नम्बर आधार सीडिंग कराई जाये। डीएम ने लीड बैंक को निर्देश दिये कि जिला पंचायत राज अधिकारी से समन्वय स्थापित कर जनपद के समस्त ग्राम प्रधानों को सूचित किया जाये, साथ ही गांव में मोबाइल नम्बर, आधार कार्ड सीडिंग हेतु मुनादी, डुग्गी पिटवाई जाये, जिससे ग्रामीण अधिक से अधिक जागरूक हो सके। ग्रामीणों को यह भी जानकारी दी जाये कि वे अपने खाते को मोबाइल नम्बर, आधार कार्ड से लिंक करायें, तदोपरान्त ही उन्हें सरकारी योजनाओं, फसल बीमा, केसीसी आदि का लाभ मिल सकेगा।
         डीएम विजय किरन आनन्द ने बैठक में मौजूद अधिकारियों को भी निर्देष दिये कि वे किसानों से वार्ता करें, किसान सहायकों के माध्यम से उन्हें अधिक से अधिक जागरूकता प्रदान की जाये। फसल ऋण आदि उपलब्ध कराने में बैंकर्स का पूर्ण सहयोग लिया जाये, बैंकर्स द्वारा प्रोजेक्ट एक्टिवेट करने में कोताही न बरती जाये। स्केल आफ फाइनेंस का शतप्रतिशत अनुपालन होना चाहिए। धान, गेहूं, बाजरा, मक्का, आलू आदि फसलों पर विशेष रूप से फोकस किया जाये।

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.