Header Ads

एटा में प्रक्रिया में किसी भी प्रकार हस्तक्षेप बर्दाश्त नहीं, शिथिलता बरतने पर होगी कार्यवाही,आयोग के दिशा निर्देशों के अनुरूप मतगणना को निष्पक्षता के साथ सम्पन्न करायें-डीएम

एटा-
जिला मजिस्ट्रेट/जिला निर्वाचन अधिकारी विजय किरन आनन्द ने कहा कि जनपद की चारों विधानसभा क्षेत्रो 103 अलीगंज, 104 एटा, 105 मारहरा, 106 जलेसर में 11 फरवरी को शांतिपूर्ण ढंग से हुए मतदान की मतगणना 11 मार्च को प्रातः 8 बजे से हर हाल में शुरू करा देनी है। प्रातः 8 बजे से पोस्टर बैलेट, 8ः30 बजे से ईवीएम के मतों की गणना कृषि उत्पादन मण्डी समिति एटा पर पैरा मिलिट्री फोर्स एवं अन्य पुलिसबलों की कड़ी चैकसी के बीच कराई जायेगी। डीएम ने कहा कि मतदान के उपरान्त अब मतगणना भी एक महत्वपूर्ण पढ़ाव है, सभी टीम भावना के साथ कार्य करें, किसी भी प्रकार का आछेप नहीं लगना चाहिए। पूरी टीम अनुशासन में रहनी चाहिए साथ ही सभी के साथ आचरण, स्वभाव में शालीनता का परिचय दिया जाये।
        डीएम विजय किरन आनन्द बुधवार को अविनाशी सहाय इण्टर कालेज में आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम में मौजूद मतगणना सहायक प्रथम द्वितीय, मतगणना पर्यवेक्षक, माइक्रो आब्जर्वर आदि को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि 11 मार्च को मण्डी परिसर में प्रत्येक टेबिल पर प्रातः 8 बजे से एक साथ मतगणना शुरू करा दी जाये, मतगणना के दौरान किसी भी प्रकार की शिथिलता, लापरवाही न बरती जाये। सभी कार्मिक आरओ, एआरओ के साथ समन्वय रखें, पूर्ण जानकारी रखी जाये। काउंटिंग सुपरवाईजर अपनी-टीमों को नेतृत्व प्रदान करेंगे, साथ ही सभी कार्मिक आयोग के दिशा निर्देशों का अनुपालन करते हुए मतगणना को निष्पक्ष तरीके से सम्पन्न कराने में अपना सहयोग प्रदान करेंगे। डीएम ने कहा कि प्रत्याशी एवं उनके एजेंटों यदि मतगणना कार्मिकों के साथ हस्तक्षेप करने की कोशिश करते हैं, तो तत्काल सूचना संबंधित आरओ एवं उच्चाधिकारियों को दी जाये। कार्मिकों के आचरण, बर्ताव के कारण पूरी टीम कलंकित नहीं होनी चाहिए, कौंन जीत रहा है कौंन हार रहा है, इससे कतई मतलब न रखें, आपकी बाॅडी लेंग्वेज, विश्वास कायम रहना चाहिए, पूर्ण निष्पक्ष होकर मतों की गणना कार्य को सम्पादित किया जाये।
         डीएम विजय किरन आनन्द ने कहा कि मतगणना केन्द्र पर किसी भी प्रकार की अव्यवस्था नहीं होने दी जायेगी। सघन बैरीकेटिंग के साथ ही भारी मात्रा में फोर्स को तैनात किया गया है, प्रेक्षक भी मौजूद रहेंगे, मीडिया हेतु भी कक्ष स्थापित किया गया है, साथ ही सम्पूर्ण मतगणना कार्यक्रम को सीसीटीवी कैमरे में कैद किया जायेगा। मतगणना केन्द्र पर प्रवेश हेतु पास जारी किये गये हैं, बिना पास कोई भी व्यक्ति प्रवेश नहीं कर सकेगा। इसके साथ ही समस्त मतगणना केन्द्र स्ट्रांगरूम, स्ट्रांग रूम खोलने, मशीन ले जाने, मशीन खोलने, मतगणना के बाद सील करने, स्ट्रांगरूम तक ले जाने, स्ट्रांग रूम में रखने, मतगणना स्थल पर उपस्थित प्रत्याशियों, मतगणना अभिकर्ताओं आदि सभी की सघन वीडियोग्राफी होगी, साथ ही मतगणना की वीडियोग्राफी की सीडी पूर्णतः सुरक्षित रखी जायेगी, सीसीटीवी कैमरे भी लगाये जा रहे हैं, जो हर गतिविधि पर कड़ी नजर रखेंगे। मतगणना के उपरान्त आरओ का निर्णय ही अंतिम एवं सर्वमान्य होगा। प्रभारी अधिकारी कार्मिक/मुख्य विकास अधिकारी प्रताप सिंह भदौरिया एवं पीडीडीआरडीए आरके गौतम द्वारा मतगणना कार्मिकांें को बारीकी से प्रशिक्षण प्रदान किया गया।

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.