Header Ads

एटा सांसद आदर्श गांव करतला में डीएम ने चैपाल लगाकर सुनी जनसमस्याएंसंस्थागत प्रसब में लापरवाही पर आशा,एएनएम को किया निलंबित

महिलाओं का शोषण, कन्या भू्रण हत्या की शिकायत मिलने पर होगी दण्डात्मक कार्यवाही
विद्यालयों में शतत मूल्यांकन, पठन पाठन, अवस्थापना सुविधाओं की न रहे कमी, क्वालिटी पर करें फोकस -डीएम विजय किरन आनन्द
एटा। डीएम विजय किरन आनन्द ने बुधवार को अपरान्ह में शीतलपुर विकासखण्ड क्षेत्र के लगभग 4622 आबादी वाले सांसद आदर्श ग्राम करतला का निरीक्षण कर शासन द्वारा संचालित योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की। डीएम ने इस दौरान गांव के प्राथमिक विद्यालय पर आयोजित चैपाल को संबोधित करते हुए कहा कि गांव को आदर्श गांव बनाने में सभी अपना सहयोग प्रदान करें, आपसी समन्वय कायम रखें। स्वच्छता पर विशेष रूप से फोेकस किया जाये, गांव को खुले में शौच मुक्त घोषित करने हेतु विशेष प्रयास किया जाये, गांव के लगभग 40 प्रतिशत लोग खुले में शौच करने के लिए जाते हैं जो काफी निराशाजनक है, इस स्थिति में सुधार अवश्य होना चाहिए, ग्राम विकास अधिकारी एवं स्वच्छ भारत मिशन की टीम द्वारा घर घर जाकर सर्वे किया जाये, जिन परिवारों के शौचालय अभी तक नहीं बने हैं उनके अतिशीघ्र बनवाये जायें। डीएम ने निर्देश दिये कि पैंशन, कनैक्शन, केसीसी, शौचालय, आवास आदि योजनाआंे के तहत पात्रों के चयन हेतु विद्यालय प्रांगण में शनिवार को कैम्प का आयोजन किया जायेगा। डीएम ने आदर्श गांव में संस्थागत प्रसब की प्रगति खराब पाये जाने पर आशा माधुरी, इन्द्रा एवं एएनएम मुन्नी देवी को निलंबित करने के निर्देश दिये। इसके अलावा कुपोषित बच्चों की देखभाल में लापरवाही बरतने पर आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों का वेतन रोकने के निर्देश दिये।
          डीएम विजय किरन आनन्द ने करतला गांव में समीक्षा के दौरान लोक निर्माण विभाग को निर्देष दिये कि बेनी एवं इसेपुर गांव में सड़क मार्ग संबंधी जो भी समस्या है उसे तत्काल दूर किया जाये। विद्युतीकरण के तहत गांव में जेई रोस्टर के अनुसार बैठकर लोगों की कनैक्शन, विद्युत बिल आदि समस्याओं को दूर करें, गांव में 14 घण्टे विद्युत आपूर्ति हर हाल में होनी चाहिए। मनरेगा के तहत टीए, ग्राम विकास अधिकारी गांव में खेल के मंैंदान आदि का स्टीमेट बनायें, बैडमिंटन, वालीवाॅल कोर्ट की स्थापना की जाये। महिला सशक्तिकरण हेतु बेहतर प्रयास किये जायें, उन्हें आजीविका मिशन से जोड़ा जाये, कौशन विकास मिशन के तहत भी अधिक से अधिक नौजवानों को जोड़ा जाये, गांव में आवास हेतु पात्रों के चयन की सूची सार्वजनिक स्थान पर चस्पा की जाये। विद्यालय में शतत मूल्यांकन, पठन पाठन, अवस्थापना सुविधाओं की कोई कमी न रहें, इसके लिए बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा पूर्ण रूप से फोकस किया जाये, सभी शिक्षक शिक्षा की गुणवत्ता पर विशेष रूप से ध्यान दें। गांव को हर हाल शतप्रतिशत साक्षर किया जाये। संासद आदर्श गांव में 24 घरेलू प्रसब होने पर डीएम ने स्वास्थ्य विभाग के प्रति कड़ी नाराजगी व्यक्त करते हुए तैनात चिकित्सक को कड़ी फटकार लगाई। गांव में 33 अतिकुपोषित बच्चें मिलने पर डीएम ने आईसीडीएस विभाग को भी फटकार लगाते हुए एक माह में सुधार लाने के निर्देष दिये।
        जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि जायद फसल मूंग के बीज के वितरण हेतु विद्यालय प्रांगण में कैम्प का आयोजन किया जाये। ग्रामीणों द्वारा केसीसी की एबज में बसूली की शिकायत पर एलडीएम को निर्देश दिये कि बैंक में छापेमारी करें कोई भी दलाल आदि बैंक मिला तो मैनेजर के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाये। राशन वितरण में लापरवाही पर कोटा डीलरों को नोटिस देने हेतु निर्देश दिये, साथ ही डीएम ने एडीओ पंचायत एवं तहसीलदार की टीम बनाई जो कि घर घर जाकर राशन वितरण की समीक्षा कर रिपोर्ट प्रस्तुत करेंगे। डीएम द्वारा इस दौरान गांव के तालाब का भी निरीक्षण किया।
            सीडीओ प्रताप सिंह भदौरिया ने कहा कि सांसद आदर्श गांव में विकास कार्याें की कोई कमी नहीं होने दी जायेगी, शासन से आवंटित बजट का पूर्ण सदुपयोग करते हुए गांव का सम्पूर्ण विकास किया जायेगा। गांव में पात्रों के चयन में किसी भी प्रकार की कोताही बरतन पर संबंधित के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जायेगी।
         

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.