Header Ads

एटा डीएम ने गैस एजेंसियों और पेट्रोलपम्प मालिकों के साथ की बैठक,सीसीटीवी लगाने के निर्देश व वसूली की शिकायत मिलने पर जाना पड़ेगा जेल

गैस कनैक्शन लाभार्थियों की शतप्रतिशत आधार सीडिंग सुनिश्चित करायें
उपभोक्ताओं का शोषण, गैस सिलेण्डर की कालाबाजारी मिलने पर होगी दण्डात्मक कार्यवाही
एटा। डीएम विजय किरन आनन्द ने कहा कि जनपद में की 17 गैस एजेंसियों से 2 लाख से भी अधिक उपभोक्ताओं को गैस का वितरण होने से उपभोक्ताआंे को काफी दिक्कत होती है। इसमें सुधार हेतु 8 हजार से अधिक उपभोक्ताओं पर प्रथक से गैस एजेंसी होनी चाहिए जिससे उपभोक्ताओं को समय से पूर्ण पारदर्शिता के साथ वितरण हो सके। नई दुकानों के आवंटन की प्रक्रिया जल्द से जल्द पूर्ण करने हेतु डीएम ने संबंधित विभाग को निर्देश दिये, उन्होंने कहा कि जनपद में सप्लाई की कोई समस्या नहीं होनी चाहिए। डीएम ने निर्देश दिये कि उज्ज्वला योजना का धरातल पर शतप्रतिशत क्रियान्वयन होना चाहिए, योजना के तहत लाभान्वित लाभार्थियों से किसी भी प्रकार की बसूली की शिकायत मिली तो संबंधित की खैर नहीं, उसके खिलाफ कड़ी कार्यवाही करते हुए 409, 467, 468 आईपीसी की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जेल भेजा जायेगा।
          डीएम विजय किरन आनन्द कलैक्ट्रेट सभागार में जनपद के सभी गैस एजेंसियों, पेट्रोल पम्प स्वामियों के साथ बैठक के दौरान निर्देश दे रहे थे। उन्होंने कहा कि उपभोक्ताओं को गैस कनेक्शन लेने में किसी भी प्रकार की असुविधा न हो इसके लिए गैस ऐजेंसियों द्वारा कनैक्शन के संबंध में पूर्ण विवरण संबंधी बोर्ड लगाया जाये। आधार सीडिंग की प्रगति काफी खराब पाये जाने पर डीएम ने डीएसओ को निर्देश दिये कि सभी गैस उपभोक्ताओं का शतप्रतिशत आधार सीडिंग 30 अप्रैल तक कराया जाना सुनिश्चित करें, अन्यथा की दशा में संबंधित गैस ऐेजेंसी का लाईसैंस निरस्त कर दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि अवैध कनेैक्शन वित्तीय अनियमितता की श्रेणी में आता है, सिलेंण्डर की मार्केटिंग, उपभोक्ताओ का शोषण कतई बर्दाश्त नहीं होगा।
             डीएम ने सभी पेट्रोलपम्पों पर सीसीटीवी कैमरे 15 दिन के अंदर लगाये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि पूर्ण ईमानदारी के साथ व्यवसाय करें, रिनूवल, एनओसी आदि में यदि किसी भी प्रकार की समस्या है तो अवगत करायें।
        बैठक में एसडीएम रवीप्रकाश श्रीवास्तव, संजीव कुमार, मो0 अवेश, डीएसओ, सभी पूर्ति निरीक्षक, गैस ऐजेंसी, पेट्रोलपम्प स्वामी आदि मौजूद थे।

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.