Header Ads

सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में होंगी इस बार बोर्ड परीक्षाएं,बोर्ड परीक्षा में किसी भी प्रकार का हस्तक्षेप बर्दाश्त नहीं,विघ्न डालने वालों पर होगी कार्यवाही-डीएम

अविनाशी सहाय इण्टर कालेज में आयोजित बैठक मंे डीएम ने सभी केन्द्र व्यवस्थापकों को दिये निर्देश
एटा। शनिवार को अपरान्ह में डीएम विजय किरन आनन्द ने जनपद में आगामी 16 मार्च से शुरू हो रही बोर्ड परीक्षाओं को लेकर जनपदभर के केन्द्र व्यवस्थापकों के साथ अविनाशी सहाय आर्य इण्टर कालेज में एक आवश्यक बैठक की। बैठक को संबोधित करते हुए डीएम विजय किरन आनन्द ने कहा कि सभी केन्द्र व्यवस्थापक, प्रधानाचार्य 5 मार्च तक सीटिंग प्लान की सूची, एवं परीक्षा कक्ष में तैनात किये जाने वाले स्टाफ की सूची हर हाल में प्रस्तुत कर दें, सभी के परिचय पत्र जारी होंगे, इसके साथ ही प्रत्येक केन्द्र पर परीक्षा को दृष्टिगत समस्त आवश्यक व्यवस्थाएं शौचालय, पानी, फर्नीचर आदि शतप्रतिशत सुनिश्चित कराई जायें, किसी भी परीक्षार्थी को केन्द्र पर परीक्षा देने में असुविधा नहीं होनी चाहिए।
            केन्द्र व्यवस्थापक यह सुनिश्चित करें कि कोई भी छात्र, छात्रा जमीन पर बैठकर पेपर नहीं देगा, फर्नीचर की पर्याप्त मात्रा में व्यवस्था की जाये। सभी केन्द्रों पर इस बार सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में बोर्ड परीक्षाएं सकुशल सम्पन्न कराई जायेंगी, साथ ही परीक्षा में किसी भी प्रकार का विघ्न डालने एवं हस्तक्षेप करने वालों पर दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी।
            डीएम विजय किरन आनन्द ने कहा कि देश एवं राष्ट निर्माण का कार्य आगामी 16 मार्च से शुरू होने जा रहा है, इस पवित्र कार्य में सभी अपना आवश्यक सहयोग प्रदान करें। इस बार हाईस्कूल के 39255, इण्टरमीडिएट के 30143 सहित कुल 69398 परीक्षार्थी जनपद के कुल 202 परीक्षा केन्द्रों पर परीक्षा देंगे। जनपद में नकलविहीन परीक्षा एक बहुत बड़ी उपलब्धि है, पढ़ने वाले छात्र, छात्राओं का मनोबल किसी भी दशा में कम नहीं होने दिया जायेगा, किसी भी केन्द्र पर नकल नहीं होने दी जायेगी। प्रत्येक केन्द्र पर परीक्षाकक्ष में दो कक्ष निरीक्षक होंगे, जिसमें एक कालेज की तरफ से एवं एक प्रशासनिक कक्ष निरीक्षक की तैनाती होगी, छात्रों के बीच पर्याप्त गैप का विशेष रूप से ध्यान रखा जाये। विद्यालयों में बोर्ड पर यदि कुछ लिखा हुआ पाया गया तो संबंधित केन्द्र के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जायेगी।
         डीएम ने कहा कि इस बार भारी मात्रा में प्रत्येक केन्द्र पर फोर्स को तैनात किया जायेगा, साथ ही केन्द्र से 200 मीटर की परिधि में कोई वाहन खड़ा नहीं होगा, ना ही किसी भी प्रकार की भीड़ इकट्ठा होने दी जायेगी। केन्द्र व्यवस्थापकों को भी पूर्ण सहयोग दिया जायेगा, लेकिन यदि केन्द्र व्यवस्थापकेां द्वारा परीक्षा में किसी भी प्रकार का हस्तक्षेप होता पाया गया या नकल कराने की कोशिश की गई तो संबंधित केन्द्र व्यवस्थापक के खिलाफ भी दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी। हर हाल में नकलविहीन परीक्षा कराये जाने हेतु भारी मात्रा में सेक्टर मजिस्ट्रेटों की टीम को लगाया जायेगा

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.