Header Ads

पुस्तकें हमारी अच्छी दोस्त, जनपद के युवा लें पुस्तक मेले से नई प्रेरणा-डीएम

एटा-
राजकीय इण्टर कालेज प्रांगण में तीन दिवसीय पुस्तक मेले का आयोजन किया जा रहा है, शुक्रवार से शुरू हुए पुस्तक मेले का उद्घाटन जिलाधिकारी विजय किरन आनन्द एवं सलाहकार डिप्टी गर्वनर दिल्ली अजय चैधरी द्वारा संयुक्त रूप से विधिवत फीता काटकर किया गया। पुस्तक मेले मे विभिन्न प्रदेशों एवं जनपद के प्रकाशकों ने अपने-अपने स्टाल लगाकर छात्र, छात्राओं विशेषकर युवा वर्ग को जागरूक किया गया। पुस्तक मेले में नेशनल बुक ट्रस्ट,ज्ञानपीठ, राजकमल प्रकाशन, पेन्ग्विन प्रकाशन, हिन्दुस्तान, एनबीटी प्रकाशन,वाणी प्रकाशन, स्वराज्य प्रकाशन सहित कुल 25 प्रकाशनों की पुस्तकें आकर्षण का केन्द्र रहीं। पुस्तक मेले में ज्ञानोपयोगी पुस्तकों की छात्र-छात्राओं, बुद्धिजीवियों, शिक्षाविदों व साहित्यकारों ने प्रशंसा की, साथ ही पुस्तक मेले के आयोजक संजीव कुमार एआरएम रोडबेज व उनके सहयोगी के इस प्रयास की बार-बार सराहना की गई
        जिलाधिकारी विजय किरन आनन्द ने राजकीय इण्टर कालेज प्रांगण में स्व0 श्री बृजपाल सिंह यादव की स्मृति में आयोजित किये गये पुस्तक मेले में अपना सराहनी योगदान देने वाले आयोजकों को धन्यवाद देते हुए कहा कि पुस्तक मेले का आयोजन जनपद के सराहनीय कार्य हैं, ऐसे पुस्तक मेले का आयोजन जनपद स्तर के साथ-साथ ब्लाक स्तर पर भी होना चाहिए, पुस्तक मेले के आयोजन से सर्वाधिक युवा वर्ग को प्रेरणा मिलती है, साथ ही वे अपने भविष्य के निर्माण में पुस्तकों की महत्वपूर्ण भूमिका को समझ पाते हैं। पुस्तक मेले के आयोजन से छात्र, छात्राऐं साहित्य से जहां लाभान्वित हो पाती है, वहीं उनकी प्रतिभा के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निर्वाहन में सहायता मिलती है।
         डीएम ने कहा कि पुस्तकों का हमारे दैनिक जीवन में अत्यधिक महत्व है, पुस्तकों के माध्यम से ही हम अपने जीवन शैली को बदल सकते हैं, क्यों कि हर किताब हमें कुछ न कुछ सीखने की प्रेरणा मिलती है। अगले दो दिन जनपद के युवाओं के भविष्य के लिए कारगर साबित हो सकते हैं, इसलिए युवाओं की इस पुस्तक मेले में शतप्रतिशत सहभागिता सुनिश्चित कराई जाये।
         डीएम ने यह भी कहा कि अगर किसी को कुछ तोहफा देना है तो पुस्तकें दें क्योंकि पुस्तकों से बढ़कर कुछ नहीं, पुस्तकें ही हमारे मार्गदर्शन में अहम भूमिका निभाती हैं। उन्होंने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी का उदाहरण देेते हुए बताया कि पुस्तकों से प्रेरणा लेकर ही महात्मा गांधी ने हमारे देश को आजाद कराने में अहम भूमिका निभाई।
        ओएसडी उपराज्यपाल दिल्ली आईपीएस अजय चैधरी ने कहा कि पुस्तक मेले का आयोजन जनपद के लिए गौरव की बात है, ऐसे आयोजन समय समय होने चाहिए। उन्होंने सभी प्रकाशकों को मेले में प्रतिभाग करने हेतु बधाई दी।
          एआरएम संजीव कुमार ने कहा कि पुस्तक मेला राजकीय इण्टर कालेज प्रांगण में 26 फरवरी तक आयोजित किया जायेगा, उन्होंनेे जनपद के सभी महानुभाव, अधिकारियों, राजनीतिज्ञ बन्धुओं, शिक्षाविद, साहित्यकारों एवं शिक्षा से जुड़े सभी विद्यार्थियों विशेषकर युवा वर्ग से आग्रह है किया कि पुस्तक मेले में उपस्थित हों और ज्ञानवर्धक पुस्तकों का अध्ययन कर उनको भारी छूट 25 प्रतिशत पर क्रय करें और मेले को भव्य बनाकर जनपद को गौरवान्वित करंें। पुस्तक मेले में डायट, मलखान सिंह महाविद्यालय रूद्रपुर, एलएमएस डिग्री कालेज सकीट, माउण्ट लिटेरा जी स्कूल कासगंज, जनता इण्टर कालेज कैल्ठा सहित दर्जनभर विद्यालयों के छात्र, छात्राओं, शिक्षक, शिक्षिकाओं ने प्रतिभाग किया

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.