Header Ads

प्रधानमंत्री ने मांगी बीएसएफ जवान का वीडियो वायरल होने के बाद गृह मंत्रालय से जवानो के खाने की रिपोर्ट

नई दिल्ली-
बीएसएफ जवान तेज बहादुर यादव की तरफ से सीमावर्ती क्षेत्र में काम करनेवाले जवानों को घटिया खाने की शिकायत सोशल मीडिया पर डालने के बाद रक्षा महकमे में जो हड़कंप मचा है उसकी गूंज प्रधानमंत्री कार्यालय तक पहुंच चुकी है। जवानों को दिए जानेवाले खाने को लेकर गुरूवार को पीएमओ ने गृह मंत्रालय से रिपोर्ट मांगी है।
यादव की पत्नी ने आज बेहद सनसनीखेज आरोप लगाते हुए कहा कि उनके पति के ऊपर शिकायत को वापस लेने और माफी मांगने को लेकर दबाव बनाया जा रहा है। तेज बहादुर यादव की पत्नी शर्मिला ने समाचार एजेंसी एएनआई के साथ बात करते हुए कहा कि उनके पति ने उन्हें बताया कि उन पर शिकायत वापस लेने और माफी मांगने को लेकर लगातार दबाव बनाया जा रहा है।
इससे पहले, बुधवार को शर्मिला ने अपने पति का समर्थन करते हुए कहा था कि उनका पति गलत नहीं हैं क्योंकि उनका इरादा सच्चाई को लोगों के सामने लाना था। उन्होंने आगे कहा था कि अगर मेरे पति मानसिक तौर पर ठीक नहीं थे या फिर अनुशासनहीन थे तो फिर उनके हाथ में बीएसएफ की तरफ से देश की रक्षा को लेकर बंदूक क्यों दी गई।
बीएसएफ में खाने की क्वालिटी सुधरी
रक्षामंत्री ने बीएसएफ में घटिया खाने को लेकर वायरल हुए जवान के वीडियो पर कहा कि केन्द्र सरकार दो साल से जवानों को बेहतर व संतुष्टि देने वाला खाना तैयार कराने पर काम कर रही है। वर्ष 2012-13 में कैग की रिपोर्ट मुताबिक काम हो रहा है। उन्होंने बताया कि पहले आर्मी युनिट में ही चिकन काटा जाता था लेकिन अब 26 फ्रोजन सेंटर बनाये गये हैं ताकि गुणवत्ता वाला चिकन जवानों को मिल सके।
'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.