Header Ads

एटा चैयरमैन राकेश गांधी ने बीजेपी से दिया इस्तीफा,टिकिट नही नाराज राकेश,बताया कथनी और करनी में है अंतर

एटा-
भारतीय जनता पार्टी को  लंबे इंतजार के बाद अंतिम छड़ो में प्रत्याशियों की सूचि जारी करना भारी पड़ रहा है,
टिकट की उम्मीद में वैठे जिन प्रत्यशियों को टिकट नही मिले है उन के सुर वगावती  हो गए है,
एक दिन पहले कासगंज में हुए विद्रोह का बाद आज सदर एटा से दावेदारी करने बाले और  वर्तमान में पालिका अध्य्क्ष राकेश गाँधी ने भाजपा से इस्तीफ़ा  देते हुए पार्टी पर गंभीर आरोप लगाए
भाजपा से टिकट मांगने वाले उम्मीदवारों के सब्र का  इंतहा लेने बाली बीजेपी को अब इसका साइड इफ्फेक्ट दिखने लगा है,
पार्टी से नाउम्मीद हुए दावेदारों  ने अब वागवती सुर अपना लिए है
एक दिन पहले कासगंज जनपद के सिढ़पुरा विधान सभा में श्याम सुन्दर गुप्ता की टिकट कटने पर उनके समर्थको  ने विद्रोह कर पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह और उनके सांसद  पुत्र राजवीर सिंह पर हस्तक्षेप का आरोप लगाकर उनके पुतले फूंक दिए और जमकर हंगामा काटा था वही आज एटा  नगर के पालिका अध्य्क्ष राकेश गाँधी ने भजपा से इस्तीफ़ा दे दिया
आपको बता दे कि राकेश गाँधी पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के  सांसद  पुत्र राजवीर सिंह से नजदीकी बनाये हुए थे और उनके ही खास बनकर टिकट कि उम्मीद लगाए वैठे थे लेकिन अंतिम क्षणों में गाँधी की टिकट कट जाने पर उन्होंने  भाजपा को  अब डूबता हुआ जहाज कहा साथ ही  रसूख के आधार पर टिकट बाटने का आरोप लगाते हुए कहा की उनसे  परिवर्तन यात्रा सहित कई कार्यक्रमो  में पैसा खर्च करवाया,
राकेश गाँधी  ने कहा की भाजपा ने मुझे धोका दिया और पार्टी को  ज्वाइन करना  मेरी गलती थी
'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.