Header Ads

मुख्यमन्त्री अरविंद केजरीवाल पर रैली मे युवक ने फेंका जूता

रोहतक-
नए साल के पहले दिन जाटलैड में नोटबंदी के खिलाफ आयोजित आम आदमी पार्टी की तिजोरी तोड़, भंडाफोड़ रैली में एक व्यक्ति ने केजरीवाल पर जूता फेंक दिया। कार्यकर्ताओं ने तत्काल उसे काबू कर दिया और पुलिस के हवाले किया। केजरीवाल ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद उनके सामने आने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे हैं। इस कारण वह जूता फिंकवाकर कर अपना रोष दर्ज कर रहे हैं।
इससे पूर्व मंच पर अलग-अलग नेताओं का भाषण चल रहा था। खुले आसमान के नीचे आयोजित इस रैली में जैसे ही आम आदमी पार्टी के संयोजक व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भाषण देने के लिए पहुंचे एक युवक ने उन पर जूता उछाल दिया। युवक को एेसा करते देख आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता उद्वेलित हो गए। उन्होंने युवक की जमकर धुनाई की और बाद में उसे अर्बन स्टेट पुलिस को सौंप दिया गया। युवक की पहचान दादरी के गांव मोड़ी निवासी विकास पुत्र राजबीर के रूप में हुई है।
पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। बताया जा रहा है कि वह एसवाइएल पर केजरीवाल के बयान से खफा था। बता दें पंजाब में केजरीवाल ने एसवाइएल पर पंजाब का पक्ष लिया था। जूता फेंकने के संबंध में केजरीवाल ने कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नोटबंदी के मुद्दे पर उनसे सामना करने के लिए कतरा रहे हैं। इसीलिए उन्होंने अपने समर्थक को जूता फेंकने के लिए भेजा है।
इससे पूर्व रैली को संबोधित करते हुए दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कथावाचक बताया। दिल्ली सरकार में मंत्री कपिल मिश्रा ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि नोटबंदी देश के लिए काला दिन था। भाजपा ने साहूकारों के लिए नोट जारी किया। गरीब के लिए दो हजार रुपये का नोट नहीं है। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के बाद से किसी ने लंबी गाड़ी वाले आदमी को बैंक में जाते नहीं देखा।
'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.