Header Ads

लखनऊ शिलान्यास कार्यक्रम में आजम खां ने साधु-संतों की मौजूदगी में कांग्रेस पर जमकर निकाली भड़ास

लखनऊ-
कांग्रेस से समाजवादी पार्टी के गठजोड़ की चर्चाएं गर्म हैं, उस पर समाजवादी सरकार के कद्दावर मंत्री मोहम्मद आजम खां ने कल मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की मौजूदगी में जमकर निशाना साधा
माना जा रहा है कि अखिलेश यादव कांग्रेस से गठजोड़ के पक्षधर हैं हालांकि इस मुद्दे पर उन्होंने लगातार यह कहते हुए अपने पत्ते खोलने से परहेज किया कि इस बाबत वह अपनी राय पार्टी मुखिया मुलायम सिंह यादव से जाहिर करेंगे। सपा के एक राष्ट्रीय पदाधिकारी पर निशाना साधते हुए कहा कि घर का भेदी लंका ढाए।
इलाहाबाद में संगम तट तक पहुंचने के लिए प्रस्तावित चार लेन सेतु व पहुंच मार्ग के शिलान्यास कार्यक्रम में आजम खां ने साधु-संतों की मौजूदगी में कांग्रेस पर भड़ास निकाली। उन्होंने कहा कि आखिर क्यों 'सारे जहां से अच्छा हिंदोस्तां हमारा' के रचनाकार अल्लामा इकबाल और उनकी तरह बहुत सारे लोग 1947 में देश छोड़कर पाकिस्तान जाने को मजबूर हुए। क्या हुआ था, किसने उन्हें वतन छोडऩे पर मजबूर किया था।
आजम यहीं नहीं रुके। इसी रौ में बहते हुए बोले कि सारे लोग जो पाकिस्तान बनाने वाले कहलाए, वे इंडियन नेशनल कांग्रेस के लोग थे। वह कांग्रेस जिसके प्रेसीडेंट मौलाना मौहम्मद अली जौहर और मौलाना अबुल कलाम आजाद जैसे लोग थे। फिर सवाल किया कि 'आखिर कौन सी ऐसी पॉलिसी थी कांग्रेस की जिसने देश का बंटवारा करा दिया।
आजम ने चिरपरिचित अंदाज में कहा कि ऐसे लोग भी हैं जिन्होंने जिस घर में कदम रखा, उसकी तबाही की इबारत लिख दी। फिर बोले कि घर का भेदी ही लंका जलाता है। आज जो घर का भेदी बन गया है, दुआ कीजिए कि या तो वह सुधर जाएगा या हमें उससे छुटकारा मिल जाएगा। ऐसे शख्स को उन्होंने दलाल कहने से भी गुरेज नहीं किया। माना जा रहा है कि उनका इशारा हाल ही में सपा के सांसद और राष्ट्रीय महासचिव बनाए गए पदाधिकारी की ओर था।
'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.