Header Ads

कासगंज पुलिस ने कार्यवाही की होती तो नही बुझते पांच परिवारों के चिराग,जेल में बयान के बाद खुले सालो पुराने प्रकरण

कासगंज-
कटरी में हुए खूनी खेल की पृष्ठभूमि में सालों पुरानी रंजिश भी है।
एएसपी की जांच में सालो पुराने खुले प्रकरण खुले
समय रहते पुलिस कार्रवाई करती तो नही बुझते पांच परिवारों के चिराग
वर्ष 2014 के अगस्त माह में हरियाणा प्रदेश के जिला अशरफगढ़ निवासी रोहताश यादव पुत्र बनवारीलाल ने पुलिस महानिदेशक के अलावा मुख्यमंत्री और उच्चाधिकारियों को शिकायती पत्र भेजकर कटरी में कुछ युवकों की दबंगई का खुलासा करते हुए बड़ी घटना की आशंका जताई थी। जिसमें कटरी में हुए खूनी खेल के आरोपी सरगना मुकुल उर्फ मुकलू से आसपास के कई गांवों को आतंकित बताया गया था। इस मामले में शिकायतकर्ता ने सुन्नगढ़ी पुलिस के तत्कालीन थानाध्यक्ष पर हिस्ट्रीशीटर एवं दबंगों से मिले होने का आरोप लगाते हुए कहा था कि पुलिस उन्हें संरक्षण दे रही है। लिहाजा कभी भी यह लोग कटरी में घटनाओं को अंजाम दे सकते हैं। इसके अलावा पंजाब प्रदेश के बब्बल ने भी उच्चाधिकारियों से शिकायत कर कटरी में कुख्यातों का कब्जा बताया था। उस समय शिकायती पत्र में कई ऐसे लोगों के नाम शामिल थे जो अभी हत्याकांड में शामिल हैं। *एएसपी हरेंद्र यादव ने जब पुलिस भूमिका की जांच शुरू की है* तो पुराने प्रकरण सामने आए हैं इन्हें जांच में शामिल किया जा रहा है। यहां सवाल उठ रहा है कि उस समय पुलिस यदि संवेदनशील हुई होती और बब्बल एवं रोहतास की शिकायतों को गंभीरता से लिया होता तो शायद पुरानी रंजिश में यह लोग इस घटना में शामिल न होते। न ही पुलिस को पांच हत्याओं के बाद गैर प्रांतों की दौड़ नहीं लगानी पड़ती। *एएसपी ने बताया* कि प्रत्येक पहलू पर जांच हो रही है। पुराने प्रकरण जांच में शामिल किए जा रहे हैं।
न्यायालय में समर्पण कर चुके नौ हत्यारोपियों से *सीओ सहावर सबीह हैदर एवं सुन्नगढ़ी पुलिस ने जिला जेल पहुंच बयान दर्ज किए हैं।* फरार आरोपियों के बारे में यह हत्यारोपी भी कोई जानकारी पुलिस को नहीं दे सके।
'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.