Header Ads

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 650 जिलों मे गर्भवती महिलाओं को छह हजार मदद देने को कहा

किसानों, महिलाओं और वरिष्ठ नागरिकों को पीएम मोदी ने दी बड़ी सौगात
नई दिल्ली-
नए वर्ष की पूर्व संध्या पर राष्ट्र को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने एक तरफ जहां गरीब और निम्न आय वर्ग के लोगों का ध्यान रखते हुए किसानों, महिलाओं और वरिष्ठ नागरिकों को बड़ी सौगात दी है तो वहीं दूसरी तरफ उन्होंने इशारों ही इशारों में साफ कर दिया कि कालेधन रखनेवालों को किसी भी कीमत पर नहीं छोड़ा जाएगा।
नोटबंदी को देश की अर्थव्यवस्था के लिए एक आवश्यक कदम बताते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पहले ईमानदार लोग घुटन महसूस करते थे लेकिन अब ऐसा नहीं है। उन्होंने कहा, "ग्रामीण इलाकों में हर छोटी कमी को दूर करने की कोशिश। हिन्दुस्तान ने जो कर दिखाया ऐसा उदाहरण विश्व में संभव नहीं।"
पीएम ने आगे कहा कि कैश अगर अर्थव्यवस्था की मुख्यधारा में है तो विकास का आधार बनता है। लेकिन, देश ने दिखाया कि वह गरीबी से निकलने के लिए क्या कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि देशवासियों का प्यार मेरे लिए आशीर्वाद की तरह है। पीएम ने कहा कि देश में सिर्फ 24 लाख लोग ही मानते हैं कि उनकी सालाना आय 10 लाख है।
आतंकवाद और नक्सलवाद से जुड़े हैं कालेधन के तार
कालेधन छुपानेवालों पर कड़ी कार्रवाई का संकेत देते हुए पीएम ने कहा, "देश की लालफीताशाही की कड़वी सच्चाई से नकारा नहीं जा सकता है। ये सरकार सज्जनों की मित्र है लेकिन दुर्जनों को सही रास्ते पर लाएगी। ऐसे में कानून अपना काम कठोरता से करेगा लेकिन सरकार ईमानदारों का ध्यान रखेगी।" उन्होंने कहा आतंकवाद और नक्सलवाद से जुड़े सारे लोगों के तार काले धन से जुड़े हुए हैं।
कालेधन वाले नहीं बख्शे जाएंगे-पीएम
कालेधन वालों पर सख्ती दिखाते हुए पीएम ने कहा कि चालाकी के रास्ते खोजनेवाले बेईमानों के रास्ते बंद हो चुके हैं। जिन लोगों ने गंभीर अपराध किए हैं उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। उन्होंने कहा कि हम जागरूक रहें तो गलत रास्ते पर गए नौजवानों को सही रास्ते पर लेकर आ सकते हैं। नोटबंदी के ऐलान के बाद कुछ बैंककर्मियों ने जिस तरह की मिलीभगत कर पैसे कुछ लोगों के पास पहुंचाने में मदद की उसको लेकर पीएम ने कहा कि बैंककर्मियों की काफी मेहनत के बावजूद कुछ लोगों ने गंभीर अपराध किए हैं। उन्होंने कहा कि बैंक गरीब, निम्न और मध्यमवर्गों को ध्यान में रखकर काम करेगा।
पीएम आवास योजना में गरीबों को छूट
प्रधानमंत्री मोेदी ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत शहर में घर बनाने के लिए दो नई स्कीम के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि वह लोग जो घर बनाना चाहते हैं उन्हें 9 लाख तक के कर्ज पर ब्याज में चार फीसदी की छूट दी जाएगी। जबकि, 12 लाख तक के कर्ज पर तीन फीसदी की छूट मिलेगी। उन्होंने कहा कि खरीफ और रबी के लिए 60 दिन के कर्ज का ब्याज सरकार भरेगी। डिस्ट्रिक्ट को-ओपरेटिव सेंट्रल बैंक और प्राइमरी सोसाइटी से कर्ज लोनेवालों को होगा फायदा। मोदी ने कहा कि 3 करोड़ क्रेडिट कार्ड को रूपे कार्ड में बदलेंगे।
गर्भवती महिलाओं को 6 हजार रूपये की मदद
प्रधानमंत्री मोदी ने गर्भवती महिलाओं के लिए राहत का ऐलान करते हुए कहा कि देश के 650 जिलों में गर्भवती महिलाओं को छह हजार रूपये की मदद दी जाएगी। उन्होंने वरिष्ठ नागरिकों को तोहफा देते हुए कहा कि सरकार उनके लिए नई स्कीम शुरू करने जा रही है।
वरिष्ठ नागरिकों को पीएम का तौहफा
पीएम ने कहा कि साढ़े सात तक की रकम पर वरिष्ठ नागरिकों को आठ फीसदी का ब्याज दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि वरिष्ठ नागरिकों का यह स्कीम दस सालों तक दिया जाएगा मोदी ने कहा कि गांवों में घरों के काम के लिए ब्याज में 3 फीसदी की छूट दी जाएगी। उन्होंने कहा कि डिजिटल लेनदेन को लेकर लोगों में सकारात्मक रूख देखा जा रहा है
'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.