Header Ads

लखनऊ 6 साल के लिए सीएम अखिलेश व् राम गोपाल पार्टी से निष्कासित-मुलायम

लखनऊ-
समाजवादी पार्टी में मचे घमासान के बीच शुक्रवार शाम को पार्टी प्रमुख मुलायम सिंह यादव ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल यादव को 6 साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया है. पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव की ओर से अखिलेश यादव को भेजे गए पत्र में लिखा गया है, "आपने विधानसभा 2017 के प्रत्याशियों की
सूची जारी की है. जबकि आपसे पहले राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव जी ने प्रेस वार्ता के ज़रिए सूची जारी की थी. आपके द्वारा राष्ट्रीय
अध्यक्ष के समानांतर सूची जारी करना घोर
अनुशासनहीनता है. अत: क्यों न आपके विरुद्ध अनुशासनिक कार्यवाही की जाए?"
उन्होंने कहा कि रामगोपाल ने पार्टी को कमज़ोर करने का काम किया है और ये पार्टी विरोधी गतिविधि है.
शुक्रवार को ही एक कार्यक्रम में रामगोपाल ने कहा कि वो अखिलेश यादव की सूची को मान्यता देते हैं
और उन उम्मीदवारों के लिए प्रचार करेंगे जिनके नाम इस सूची में हैं. और इस तरह के नोटिस जारी होते रहते हैं.


पत्रकारों से बातचीत में रामगोपाल यहां तक कह गए कि अब पार्टी में किसी तरह से भी सुलह की संभावना नहीं है.
रामगोपाल यादव को पार्टी से पहले भी निकाला जा चुका है और हाल ही में उनकी दोबारा वापसी हुई थी.
वहीं रामगोपाल यादव ने भी आगामी एक जनवरी को पार्टी का राष्ट्रीय सम्मेलन बुलाया है जिसमें पार्टी के मौजूदा संकट पर विचार करने की बात की गई है. इसे रामगोपाल का पलटवार माना जा रहा है.
दरअसल, गुरुवार देर रात मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की
ओर से पेश की गई समाजवादी पार्टी के उम्मीदवारों की कथित समानांतर सूची के बाद अब पार्टी सीधे तौर पर दो फाड़ होने की ओर बढ़ रही है.
मुलायम-शिवपाल खेमे ने अखिलेश के इस क़दम की तत्काल प्रतिक्रिया दी और देर रात ही 68 और उम्मीदवारों के नाम जारी कर दिए. इस सूची में भी पहले की तरह अखिलेश के कथित
क़रीबियों को जगह नहीं दी गई थी.
पार्टी में आए इस संकट के बीच पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह और प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह के बीच शुक्रवार को एक बार फिर बैठक हुई.
प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव ने सभी उम्मीदवारों की कल यानी शनिवार को लखनऊ में बैठक बुलाई है.
'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.