Header Ads

एटा में सड्यंत्र कर रची गई थी गैंगरेप की वारदात,24 घण्टे में ही खुली कलई

पंजाब-
जिला मानसार कस्बा बुढलाड़ा थाना बुढलाड़ा निवासिनी महिला द्वारा थाना कोतवाली देहात एटा पर सूचना अंकित कराई गयी कि वह दिनांक 05.11.2016 को बुढलाड़ा से ट्रेन द्वारा दिल्ली आयी थी और वहाॅ से बस द्वारा एटा पहुॅची जहाॅ से उसे अपनी ससुराल ग्राम नकटई थाना अलीगंज जाना था। प्रातः करीब 04.00 बजे बस स्टैण्ड से चार अज्ञात व्यक्तियों ने कार में लिफ्ट के बहाने बैठा कर बलात्कार के पश्चात् वादिया को बेहोशी की हालत में कासगंज रोड पर सड़क के किनारे गड्डे में फैंक कर उसके रुपये तथा कान की बाली लेकर भाग गये। उक्त सूचना पर थाना कोतवाली देहात एटा पर मुअसं-828/16 धारा 376डी,392भादवि बनाम तरसेम आदि 3 नफर पंजीकृत कर विवेचना प्रभारी निरीक्षक श्री राजेश्वर प्रसाद त्यागी थाना कोतवाली देहात के सुपुर्द हुयी।
घटना का अनावरणः- वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एटा श्री राजेश कृष्ण द्वारा घटना के सफल अनावरण तथा अभियुक्तांे की गिरफ्तारी हेतु प्रभारी निरीक्षक कोतवाली देहात तथा प्रभारी स्वाॅट टीम को संयुक्त रुप से कार्य करने हेतु निर्देशित किया गया। वादिनी द्वारा दी गयी सूचना का गंभीरता से इलेक्ट्रानिक सर्विलांस की सहायता से विश्लेषण करने पर पता चला कि वादिनी पिछले काफी समय से अपनी मुहॅबोली ननद जो पंजाब में ही रहती है, और जिला फर्रुखाबाद की रहने वाली है के परिचित गुरुदेव उर्फ गुरु उर्फ धर्मेन्द्र पुत्र स्व0 हरपाल सिंह निवासी जरारा थाना जैथरा हालपता अनासी थाना मेरापुर जिला फर्रुखाबाद के सम्पर्क में थी। जो अपराधी प्रवृत्ति का है। अपने विरोधियो को झूठे मामले में फॅसाने की नीयत से गुरुदेव ने वादिनी को अपनी बातों में फॅसाकर पंजाब से बुला लिया जो अपने पति और बच्चों के मना करने के बावजूद भी पंजाब से टेªन द्वारा दिल्ली तथा वहाॅ से बस द्वारा एटा आयी। पूरी यात्रा के दौरान वादिनी और गुरुदेव मोबाईल से सम्पर्क में रहे। प्रातः करीब 06.00 बजे वादिनी एटा रोडवेज बस स्टैण्ड पहॅुची और वहाॅ मौजूद गुरुदेव के साथ शहर के ही एक गेस्ट हाउस में चली गयी। लगभग चार घण्टे गेस्ट हाउस में रहने के बाद गुरुदेव ने सुनियोजित योजना के तहत वादिनी को कासगंज रोड पर ले जाकर बैठा दिया और गुरुदेव यह कहकर चला गया कि मैं अभी थोड़ी देर में मीडिया वालों को भेजता हूॅ और जो मैंने समझाया है वैसा ही मीडिया वालों को बताना। पुलिस द्वारा जाॅच में पता चला कि उक्त महिला अपने घर से मात्र 1200/- रुपये लेकर चली थी। उसके पर्स से 800 रुपये व कानों के झाले बरामद होने पर पुलिस को संदेह हुआ। महिला द्वारा गेस्ट हाउस की निशादेही एंव गेस्ट हाउस के चौकीदार द्वारा महिला के एक पुरुष के साथ में आने तथा करीब चार घण्टे रुकने की पुष्टि की गयी जिससे इस अत्यन्त गम्भीर प्रकृति की घटना का रहस्योद्घाटन संभव हुआ

No comments

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.