Header Ads

नॉएडा में आईजी ने मीडिया के सामने गैंगरेप पीड़िता के पिता का नाम किया सार्वजनिक

ग्रेटर नोएडा-
मेरठ जोन के आईजी सुजीत पांडे ने बुलंदशहर गैंगरेप से जुड़े मामले में खुलासा करते हुए ऐसी गलती कर दी जिससे यूपी पुलिस एक बार फिर कठघरे में आ गई है। आईजी ने मीडिया के सामने गैंगरेप पीड़िता के पिता का नाम सार्वजनिक करते हुए उनका पूरा नाम ले लिया।

हालांकि बाद में सफाई देते हुए आईजी ने कहा, 'शिकायतकर्ता का नाम एफआईआर में दर्ज है जिसे अदालत में भी पेश किया गया है। नाम बताने के पीछे मेरा इरादा उन्हें सार्वजनिक करना नही है।' उन्होंने ये भी कहा कि एफआईआर की कॉपी कोर्ट में भी पेश की गई है जो आमतौर पर सभी के पास होती है। 

​इससे पहले बुलंदशहर गैंगरेप के तीन अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद मंगलवार को पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर विस्तार से जानकारी देते हुए आरोपियों की पहचान से जुड़े महत्वपूर्ण खुलासे किए।

आईजी ने कहा कि मेरठ जोन की 18 जांच टीमें आरोपियों की खोज में लगाई गई थीं, लेकिन तीनों आरोपियों की गिरफ्तारी में सफलता बुलंदशहर क्राइम ब्रांच को मिली।

प्रेस कांफ्रेंस में आईजी सुजीत ने बताया कि गैंगरेप में शामिल तीन आरोपी जो सोमवार को मेरठ से पकड़े गए हैं वो कन्नौज के हैं। वारदात को अंजाम देने के बाद इनमें से दो आरोपी झारखंड भाग गए थे।

आईजी ने कहा, 'यह सवाल उठ रहा है कि यह घटना रात में हुई तो अंधेरा होने के बावजूद पीड़ितों को आरोपियों का चेहरा कैसे दिख गया? दरअसल आरोपी जब पीड़ित परिवार की कार के पास गए तो दरवाजा खोलने पर उसकी लाइट जली जिसमें पीड़ितों ने आरोपियों के चेहरे देखे।

No comments

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.