Header Ads

उत्तराखण्ड कार से उतरी महिला जज, कहा - मेरा ड्राइवर गलत है, काटो चालान

उत्तराखंड से हिमाचल के कांगड़ा जिले के पालमपुर घूमने आई एक महिला न्यायाधीश (सीजीएम) की गाड़ी का यहां यातायात पुलिस ने चालान काट दिया। चालान के समय महिला मुख्य न्यायाधीश गाड़ी में मौजूद थीं।

न्यायाधीश ने कहा कि चालक की गलती है और कानून के मुताबिक इसका चालान काटा जाए। हालांकि, नियम तोड़ने के बाद चालक ने धौंस जरूर दिखाई, लेकिन महिला जज ने पुलिस की कार्रवाई में सहयोग दिया।

जानकारी के मुताबिक शुक्रवार शाम उत्तराखंड से पालमपुर आईं एक महिला न्यायाधीश की गाड़ी वन वे ट्रैफिक पालन न कर सीधे चली गई। इस पर वहां मौजूद पुलिस कर्मी ने गाड़ी को रोका। पुलिस कर्मी ने चालक से कहा कि आप गाड़ी को गलत दिशा से ले आए हैं।

चालक ने दिखाई धौंस मगर पुलिसकर्मी ने काट दिया चालान

यह सुनकर न्यायाधीश के चालक ने धौंस दिखाते हुए पुलिस कर्मी से कहा कि यह गाड़ी न्यायाधीश की है। यह सुनकर यातायात पुलिस कर्मी ने कहा कि वह यह ही कह रहे हैं कि गाड़ी गलत दिशा से आई है। दोनों की बातचीत में पुलिस कर्मी ने गाड़ी का चालान काटना शुरू कर दिया।

इस बीच, गाड़ी में बैठीं महिला न्यायाधीश ने भी कहा कि चालक की गलती है और कानून के मुताबिक गाड़ी का चालान काटा जाए। गाड़ी का 200 रुपये का चालान काटा गया। बताया जाता है कि यह पुलिस कर्मी पहले भी अपनी ईमानदार छवि और ड्यूटी के प्रति कर्त्तव्य को लेकर सम्मानित हो चुका है।

उधर, डीएसपी पालमपुर विकास धीमान ने कहा कि पुलिस ने वन वे ट्रैफिक का उल्लंघन करने पर न्यायाधीश की गाड़ी का चालान काटा है। चालान नियमों की मुताबिक काटा गया है।

No comments

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.