Header Ads

सुहागरात में ही पति को दूध में जहर दे जेवर-रुपये समेट ले गई दुल्हन

आगरा में सुहागरात को ही दुल्हन ने सॉफ्टवेयर इंजीनियर पति को जहर देकर मौत की नींद सुला दिया। इंजीनियर के दिव्यांग बेटे को भी नशीला दूध पिलाकर बेसुध कर दिया। फिर लाखों के नकदी-आभूषण तथा एटीएम कार्ड और बैंक के चेक समेट फरार हो गई। पुलिस हत्यारी और लुटेरी दुल्हन की तलाश में लगी है।

जगदीशपुरा थाना क्षेत्र स्थित आवास विकास कॉलोनी सेक्टर चार निवासी 45 वर्षीय सॉफ्टवेयर इंजीनियर निर्मल सोलंकी का वर्ष 2012 में पत्नी दीप्ति से तलाक हो गया। एटा के एक कॉलेज की प्रधानाचार्या दीप्ति का पीहर शाहगंज में है। वह बड़ी बेटी को लेकर अलग रहती हैं। अलगाव के बाद दिव्यांग बेटे भरत की देखभाल इंजीनियर की मां रतना देवी करती थीं। मां की मौत के बाद कई साल से पड़ोस में रहने वाली उनकी बहन विशेषा देवी कर रही थीं। इस बीच इंजीनियर ने दूसरी शादी का मन बना लिया। परिजनों के मुताबिक निर्मल ने बिचौलिये के माध्यम से तीन दिन पूर्व रुद्रपुर में 30 वर्षीय तारा से मंदिर में शादी कर ली। शादी के लिए तारा की मां और बिचौलिया शर्मा को एक लाख रुपये दिए गए। 22 मई वे घर लौटे। अगले दिन सुहागरात थी। बेटे भरत ने बताया सोमवार शाम सात बजे मां तारा ने पापा को दूध पीने को दिया। इसे पीने के बाद पिता ने पेट में दर्द की शिकायत की। इस पर मम्मी ने उसे भी जबरन दूध पिला दिया। कुछ देर बाद ही वह बेहोश हो गया। सुबह उठा तो पापा बेड पर पड़े थे, उनके मुंह से खून निकल रहा था। मम्मी तारा गायब थी। निर्मल की बहन विशेषा, शीला और भूदेवी ने बताया कि दुल्हन घर से लाखों रुपये और आभूषण समेट कर फरार हो गई।

No comments

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.