Header Ads

सत्ताधारी कांग्रेस के 12 विधायकों के बीजेपी में शामिल होने की सम्भावना

बजट पास करने में हो सकती है सरकार की फजीहत

देहरादून: इन दिनों उत्तराखंड की राजनीति में खासी हलचल देखने को मिल रही है। कांग्रेस-भाजपा राजनैतिक खिचड़ी में तड़का डालने का काम बखूबी निभा रहे हैं। कांग्रेस के एक दर्जन विधायक सीएम हरीश रावत से असंतुष्ट चल रहे हैं। माना जा रहा है कि भाजपा इन विधायकों को कांग्रेस से तोड़कर नई सरकार का गठन कर सकती है। इसमें पूर्व सीएम विजय बहगुणा और हरक सिंह रावत शामिल माने जा रहे हैं।
इन दिनों उत्तराखंड विधानसभा सत्र चल रहा है, जो आज खत्म होने वाला है। चर्चा है कि लगभग एक दर्जन कांग्रेस विधायकों की मदद से भाजपा सरकार बनाने की कोशिश कर सकती है। सदन में अविश्वास प्रस्ताव लाने की चर्चा है। वहीं, सीएम हरीश रावत का कहना है कि मेरी सरकार को कोई खतरा नहीं है। पहले भी सरकार गिराने की कोशिश हो चुकी है। मुझ पर बदरी-केदार का आशीर्वाद है।खबर है कि कांग्रेस के एक दर्जन विधायक भाजपा में शामिल हो सकते हैं। इस खबर से उत्तराखंड में सियासी पारा खासा चढ़ गया है, वहीँ हरीश रावत सरकार पर संकट के बादल मंडराते नजर आ रहे हैं। गौरतलब है कि आज विधानसभा में बजट पेश किया जाना है और कांग्रेस के नाराज विधायकों के एंटी वोटिंग किये जाने की सम्भावना है। ऐसे में हरीश सरकार के सामने बजट पेश करना एक बड़ी चुनौती दिख रहा है।
गुरूवार को बीजेपी के शीर्ष नेताओं की अहम बैठक हुई जिसमे कांग्रेस के नाराज विधायकों को बीजेपी में शामिल करने पर विचार किया गया। फिलहाल भाजपा के संपर्क में चल रहे 12 कोंग्रेसी विधायकों के नाम सामने नहीं आये हैं, लेकिन इन दर्जनभर विधायकों के बजट सत्र के दौरान हंगामा करने के आसार हैं। कयास लगाये जा रहें हैं की नाराज विधायकों में कुछ कैबिनेट मंत्री भी शामिल हैं। अगर ऐसा होता है तो हरीश सरकार के लिए दिक्कतें पेश आ सकती हैं। वहीँ विधानसभा चुनाव निकट होने के चलते कांग्रेस को यह बड़ा झटका होगा। बता दें कि भाजपा की अहम बैठक में प्रदेश प्रभारी श्याम जाजू, संगठन महामंत्री रामलाल, राष्ट्रिय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय समेत समस्त विधायक मौजूद रहे। कोंग्रेसी विधायकों के भाजपा में शामिल होने के राज से जल्द पर्दा उठने की सम्भावना है। वैसे भी शुक्रवार को विधानसभा सत्र में विधायकों की नाराजगी जगजाहिर हो जाएगी। ऐसे में उत्तराखंड की सियासत में एक नया मोड़ आता दिख रहा है। एक ओर जहाँ पूर्व सीएम विजय बहुगुणा हरीश सरकार को घेरने की तयारी में हैं वहीँ दूसरी ओर नाराज विधायकों ने हरीश रावत की नाक में दम करने की पूरी तयारी कर ली है। देखने यह होगा कि हरीश सरकार सदन में बजट पेश कर पाती है या नहीं। नाराज विधायको को मनाना भी हरदा के लिए बड़ी चुनौती होगा।

No comments

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.