Header Ads

हैलट अस्पताल में इलाज के दौरान वार्ड से भाग गया कैदी

कानपुर। उन्नाव की जेल में अपहरण व बलात्कार के केस में बन्द कैदी हैलट अस्पताल में इलाज के दौरान वार्ड से भाग गया। जिसकी जानकारी होने पर कैदी की सुरक्षा में लगे पुलिस कर्मी भी भाग निकले। वहीं इस घटना के बाद अस्पताल में हड़कम्प मच गया। सूचना पर पहंुची पुलिस ने मामला दर्ज कर अलाधिकारियों को जानकारी दे दी।


दरअसल उन्नाव की जेल में बन्द कैदी 28 वर्षीय निर्मल पर बलात्कार, अपहरण का मामला दर्ज है। वह कई साल से इस जेल में सजा काट रहा है। 1 फरवरी की सुबह जेल में कैदी को पेट में अचानक दर्ज उठा। जिसकी जानकारी होने पर जेल अधीक्षक ने पुलिस की सुरक्षा में जिला अस्पताल में भर्ती कराया।

डाक्टरों ने उसकी हालत को गंभीर बताते हुए कानपुर शहर हैलट अस्पताल रेफर कर दिया। उन्नाव जेल के पुलिस कर्मी राजनारायण पाण्डेय व धर्मेन्द्र के निगरानी में कैदी को इलाज के लिए हैलट भेज गया। यह पर चिकित्सकों ने उसका इलाज शुरु करते हुए वार्ड छह के पंलग नंबर सात में शिफ्ट कर दिया। बीती रात कैदी पुलिसकर्मियों को चकमा देकर वार्ड से भाग गया। सुबह मामले की कैदी के भागने की जानकारी होने पर सिपाही भी भाग खड़े हुए।

उधर अस्पताल से कैदी भाग जाने की खबर मिलते ही स्वरुपनगर थाने की पुलिस मौके पर पहंुची। इंस्पेक्टर ने मामले की तफ्तीश करते हुए घटना के बारे में अलाधिकारी को जानकारी दी। इस मामले की जानकारी होने पर एसपी उन्नाव ने बताया कि सिपाहियों को निलबिंत कर दिया गया है तथा उनके खिलाफ विभागीय जांच बैठा दिया गया है।


इससे पहले भी भाग चुके है कैदी
यह पहली बार नहीं है कि शहर के अस्पताल से कोई कैदी भागा हो, इससे पहले भी वार्ड नंबर 11 में भर्ती एक कैदी भागा था। जबकि जिला उर्सला अस्पताल से एक महिला कैदी बाथरुम का शीशा तोड़कर भागी थी। जिसको पुलिस आज भी पकड़ नहीं पायी है।

No comments

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.