Header Ads

दिल्ली में भाई की सरकार, मंदिर के लिए आंदोलन की ज़रूरत नहीं: तोगड़िया

नई दिल्ली: विश्व हिन्दू परिषद के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने एक बार फिर से राम मंदिर के मुद्दे को छेड़ते हुए कहा है कि जब दिल्ली में भाई की सरकार है तो फिर आंदोलन कैसा? इससे जाहिर है कि प्रवीण तोगड़िया का इशारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर है.

प्रवीण तोगड़िया ने अपने बयान में कहा कि राम मंदिर बनकर रहेगा लेकिन उसके लिए आंदोलन की कोई जरूरत नहीं है. अपनी सरकार(एनडीए) के खिलाफ कौन आंदोलन करता है. तोगड़िया ने ये बातें लखनऊ में एक कार्यक्रम के दौरान कही. उन्होंने कहा कि सरदार पटेल ने संसद में कानून बनाकर सोमनाथ मंदिर बनवाया था और अब पीएम मोदी को भी उसी राह पर चलना चाहिए.

इससे पहले बुधवार को हिंदू सम्मेलन में हिस्सा लेने गए विहिप के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने कहा था कि राम मंदिर के लिए हिंदू अनवरत प्रतीक्षा नहीं कर सकते. उन्होंने कहा कि संसद द्वारा कानून बनाकर राम मंदिर का निर्माण किया जाना चाहिए. विहिप नेता ने तब कहा था कि देश के 100 करोड़ हिंदू सर्वोच्च न्यायालय के इस मामले में होने वाले फैसले की अनवरत प्रतीक्षा नहीं कर सकते.

“यह ऐसा मुद्दा है जो करोड़ों हिंदुओं के दिल के बहुत करीब है. हम इस बात की प्रतीक्षा नहीं कर सकते कि शीर्ष अदालत कोई समय निकाले और मुद्दे पर सुनवाई करे.” उन्होंने कहा था कि हिंदू बहुसंख्यकों की भावनाएं इस बात को सुनिश्चित करेंगी कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर के निर्माण के लिए संसद कानून बनाए.

No comments

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.