Header Ads

25.50 लाख लूट कर फरार हो रहे तीन बदमाशों को दबोचा, मुठभेड़ में दो बदमाश व एक सिपाही हुआ घायल

मोदीनगर-
जनपद मेरठ के खरखौदा थानाक्षेत्र स्थित अल फईम मीट फ़ैक्ट्री में रकम जमा करने आ रहे श्याम नगर मेरठ निवासी आस मौहम्मद कुरैशी से क़रीब साढ़े पच्चीस लाख की नकदी लूटकर फरार होने का प्रयास कर रहे कारसवार हथियारबंद तीन बदमाशों को मेरठ-ग़ाज़ियाबाद पुलिस द्वारा की गई संयुक्त कार्रवाई के दौरान हुई मुठभेड़ के बाद निवाड़ी थानाक्षेत्र के गांव नंगला मूसा के जंगलों से दबोच लिया गया। क़रीब तीन घंटे चली इस मुठभेड़ में बदमाशों व पुलिस के बीच जमकर गोलियां चलीं। दोनों ओर से हुई गोलीबारी में दो बदमाशों के अलावा एक पुलिस के कांस्टेबिल भी घायल हो गया। तीनों घायलों को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां कांस्टेबिल के पेट व पैर में गोली लगी होने के चलते उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। बदमाशों के पास से पुलिस ने लूटी गई रकम से भरा बैग बरामद कर लिया है। मौके पर पहुंचे डीआईजी मेरठ रेंज आशुतोष कुमार व एसएसपी ग़ाज़ियाबाद धर्मेन्द्र सिंह ने बदमाशों से स्वयं लोहा लेते हुए बदमाशों को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया।
     एसएसपी धर्मेन्द्र सिंह के मुताबिक मेरठ-हापुड़ रोड पर मीट कारोबारी से लूट करने के बाद कारसवार बदमाशों के मोदीनगर की ओर फरार होने की ख़बर फ्लैश होते ही आस पास के जनपदों की पुलिस सतर्क हो गई। और बदमाशों की लोकेशन के आधार पर कई थानों का पुलिस बल उनके पीछे लग गया। अपने आपको पुलिस से घिरा देख बदमाश थाना निवाड़ी के गांव नंगलामूसा के बाहर स्थित ईंख के खेतों में छिप गए। बदमाशों का पीछा कर रही पुलिस की टीमों ने खेत को चारों ओर से घेर लिया और बदमाशों को आत्मसमर्पण करने को कहा। किंतु खेत में छुपे हुए बदमाश उल्टा पुलिस को ही गोली मारने की धमकी देने लगे। इस बीच साहस का परिचय देते हुए गांव के चौकीदार शीशपाल को लेकर खेत में घुसे मोदीनगर कोतवाली में तैनात कांस्टेबिल अनिल चौधरी ने बदमाशों को ललकारा तो बदमाशों ने अनिल को घेरकर उसकी अत्याधुनिक रायफल छीन ली और अपने असलहों से अनिल के पेट व टांग पर गोली मार दी। वहां मौजूद शीशपाल ने हिम्मत कर घायल अनिल को खेत से बाहर निकाला और साथ में वहां पड़ा एक बैग भी ले आया। जिसमें लूटी गई नकदी मौजूद थी। इसी दौरान मौके पर डाआईजी मेरठ रेंज आशुतोष कुमार व एसएसपी धर्मेन्द्र सिंह ने वहां आकर मोर्चा संभाल लिया और दोनों ओर से क़रीब 30-40 राउंड गोलियां चलीं। जिसमें दो बदमाश अमित निवासी लोनी व प्रदीप निवासी बागपत गोली लगने से घायल हो गए। अपने दो साथियों के घायल होने से घबराए तीसरे बदमाश विक्की निवासी मुरादनगर ने पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया। एसएसपी ने जानकारी दी कि वारदात में चार बदमाशों के शामिल होने की सूचना थी। काफी देर तक खेत के आसपास के क्षेत्र की कॉबिंग किए जाने पर भी चौथे बदमाश का पता नहीं चल सका है। संभवतः पीछा किए जाने के दौरान वह कार से कूदकर फरार हो गया। पकड़े गए बदमाशों से चौथे बदमाश के बारे में पूछताछ की जा रही है और इनका आपराधिक इतिहास खंगाला जा रहा है।

No comments

'; (function() { var dsq = document.createElement('script'); dsq.type = 'text/javascript'; dsq.async = true; dsq.src = '//' + disqus_shortname + '.disqus.com/embed.js'; (document.getElementsByTagName('head')[0] || document.getElementsByTagName('body')[0]).appendChild(dsq); })();
Powered by Blogger.